नए जमाने के साथ नई तकनीक का समय आ गया है : यादव

Divya Gaur Published Date 2019/01/02 06:10

जयपुर। जयपुर कलेक्ट्रेट में आज नए कलेक्टर जगरूप सिंह यादव ने अधिकारियों के साथ पहली बैठक की। कलेक्ट्रेट सभागार में हुई इस समीक्षा बैठक में विभाग की प्रगति रिपोर्ट पास पर चर्चा की गई। साथ ही जहां-जहां काम में कमी आ रही है, उसे तुरंत दुरुस्त कर 31 मार्च तक प्रगति रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है और नई तकनीक का उपयोग कर आगे बढ़ने की सोच पर भी विचार मंथन किया गया।

जयपुर कलेक्ट्रेट में आज जिला कलेक्टर जगरूप सिंह यादव ने कलेक्ट्रेट के कलेक्ट्रेट के सभी विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। आज की इस बैठक में जिला कलेक्टर ने सभी विभागों में हुए अभी तक के काम और उन कार्यों की समीक्षा की। बैठक में जगरूप सिंह यादव ने एक एक करके पहले विभाग की समस्या सुनी और उस विभाग में अभी तक हुए कार्यों की समीक्षा करते हुए आगे का रोड मेप तैयार करके लाने को कहा, जिसमे शिक्षा, स्वास्थ्य, भामाशाह, जन अभाव, मेट्रो और पेयजल शामिल रही।

बैठक में जिला कलेक्टर जगरूप सिंह यादव ने अधिकारियों से कहा की सरकारी योजनाओं का लाभ आम जनता तक पहुंचे यह विभाग की प्राथमिकता है, लेकिन सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार में अभी बहुत कमी है हमें इसे जल्दी ही दुरुस्त करना पड़ेगा। कलेक्ट्रेट में हुई समीक्षा बैठक में जगरूप जिला कलेक्टर जगरूप सिंह यादव की दूरदर्शिता के साथ साथ नवाचार करने की पहल भी दिखाई दी।

दरअसल, हुआ कुछ यूं कि जब जिला कलेक्टर जगरूप सिंह यादव शिक्षा और स्किल डेवलपमेंट के बारे में अधिकारियों से समीक्षा बैठक ले रहे थे तो अधिकारियों की और से जब संतुष्टि पूर्ण जवाब नहीं आया। इस पर जिला कलेक्टर जगरूप सिंह यादव ने अधिकारियों को कहा कि अब नए जमाने के साथ और नई तकनीक के साथ चलने का समय आ गया है।

उन्होंने कहा कि नई तकनीकों को अपनाकर रोजगार के नए अवसर नए जमाने के साथ तैयार हो रहे हैं, हमें भी समय पर इन तकनीकों का उपयोग करके आने वाली पीढ़ी को और बच्चों को इस बारे में यह तकनीकें बताकर उन्हें सहज सुलभ करवानी चाहिए। इसके लिए सभी स्कूलों में ई लर्निंग की व्यवस्था की जानी चाहिए साथ ही जहां-जहां स्किल डेवलपमेंट में कमी आ रही है, उन्हें वैश्विक स्तर पर देखकर एवं मूल्यांकन कर ठीक करने की भी आवश्यकता है।

कलेक्ट्रेट में हुई इस बैठक में जब बात नवाचार के साथ आधुनिक तकनीकों को साथ लेकर चलने की बात हो रही हो, तो यकीनन बदलाव की तस्वीर भी जल्दी ही सामने साफ होती नजर आएगी। 'जब कोशिशों में हो दम तो नहीं रूकेंगे हम' की सोच के साथ अब जयपुर कलेक्टर नए जमाने मे नई तकनीकों से नई पहल करते हुए नजर आ रहे हैं, जो कि सबके लिए हितकर है।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in