एक साथ 1 हजार लोगों ने पीएम मोदी से की इच्छा मृत्यु की मांग

FirstIndia Correspondent Published Date 2018/08/22 05:28

आगरा। यूपी के आगरा में आज एक साथ एक हजार लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर इच्छा मृत्यु की मांग की है। निवेशकों ने इन्वेस्टमेंट कम्पनियों में अपना और अपने साथियों का पैसा लगवाया था। सिर्फ आगरा में ही 5 लाख निवेशकों का करीब 800 करोड़ रुपए फंसा हुआ है, लेकिन समय पूरा होने पर भी उन्हें पैसा वापस नहीं मिला है। निवेशकों ने सरकार को चेतावनी भी दी है कि अगर इस साल उन्हें पैसा नहीं मिला तो वो मतदान का भी बहिष्कार करेंगे।

यहां दस करोड़ गरीब निवेशक अपने पैसों के लिए हक की लड़ाई लड़ रहे हैं। एसीएम प्रथम अमरीश कुमार के जरिये जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ज्ञापन देकर न्याय या इच्छा मृत्यु की मांग की है। 1983 से सरकार के एमसीए व डीसीए विभाग से स्वीकृत होकर पर्ल्स (पीएसीएल लिमिटेड) के साथ साईं प्रसाद, कल्पतरु, सहारा, ग्रीन टच आदि कम्पनियों ने काम शुरू किया था। 2014 में सेबी के अधिकार बढ़ने पर सेबी ने ऐसी सैकड़ों कम्पनियों को बंद कर दिया था।

ऐसे परेशान लोगों की मदद आॅल इन्वेस्टर सेफ्टी आर्गेनाइजेशन कर रही है। दो दिन से संस्था शहीद स्मारक पर धरना प्रदर्शन कर रही है। इनका कहना है कि उक्त कंपनियों के पास निवेशकों की रकम से ज्यादा संपत्ति है फिर भी निवेशकों का पैसा नहीं मिला है। पूरे भारत में दस करोड़ परिवार इस परेशानी से जूझ रहे हैं।

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in