Live News »

Coronavirus Updates: एक साल के लिए टला खेलों का महाकुंभ, टोक्यो ओलंपिक पर लगा ब्रेक

Coronavirus Updates: एक साल के लिए टला खेलों का महाकुंभ, टोक्यो ओलंपिक पर लगा ब्रेक

क्राइस्टचर्च: कोरोना वायरस की वजह से इस साल का टोक्यो ओलंपिक का आयोजन एक साल के लिए टल गया है. कोरोना वायरस की वजह से जापान ने ओलंपिक को टालने का प्रस्ताव दिया था. अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के ओलंपिक खेलों के लिए खिलाड़ी ना भेजने के फैसले के बाद ही इस महाकुंभ को एक साल के लिए टालने का दबाव बन रहा था.

कोरोना बचाव को लेकर केन्द्र और राज्य सरकार को सराहा, बीजेपी प्रदेश मुख्यालय में हुई बैठक 

अब यह 2021 में खेला जाएगा:
ओलंपिक के इस महाकुंभ का आयोजन 24 जुलाई से नौ अगस्त 2020 के बीच होना था. अब यह 2021 में खेला जाएगा. कोरोना वायरस के चलते अब तक विश्वभर में 17,000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.

Hanta Virus: चीन में हंता वायरस ने दी दस्तक, एक शख्स की मौत, 32 लोग संदिग्ध! 

आयकर रिटर्न की तारीख बढ़ाई:
वहीं कोरोना संकट के चलते देश में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर वित्त मंत्री ने कहा कि जल्द ही आर्थिक पैकेज का ऐलान किया जाएगा. इसके साथ ही आयकर रिटर्न की तारीख बढ़ाने का ऐलान भी वित्त मंत्री ने किया. वित्त मंत्री ने कहा- वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए आयकर रिटर्न की तारीख 31 मार्च के बजाए 30 जून 2020 होगी. वित्त मंत्री ने बताया कि रिटर्न में देरी पर लेट भुगतान 12% से घटाकर 9% किया गया.

और पढ़ें

Most Related Stories

लद्दाख में महसूस किए गए भूकंप के झटके, 4.5 आंकी गई भूकंप की तीव्रता

 लद्दाख में महसूस किए गए भूकंप के झटके, 4.5 आंकी गई भूकंप की तीव्रता

नई दिल्ली: देश के कई राज्यों में लगातार भूकंप के झटके आ रहे है. अब लद्दाख में  भूकंप के झटके महसूस किए गए है. भूकंप की तीव्रता 4.5 आंकी गई है. इससे पहले भी दिल्ली, एनसीआर, हरियाणा के रोहतक समेत कई जगहों पर पहले भी भूकंप के झटके आ चुके है.

3 साल तक राज्यसेवा की शर्त पर हाईकोर्ट ने पीजी करने की दी इजाजत

3 साल तक राज्यसेवा की शर्त पर हाईकोर्ट ने पीजी करने की दी इजाजत

जयपुर: राजस्थान हाईकोर्ट ने हाल ही में चिकित्सा अधिकारी के पद पर नियुक्त तीन अभ्यर्थियों को पीजी पूर्ण होने के बाद तीन साल तक राज्य सरकार के तहत सेवा देने की शर्त पर पीजी में शामिल की अनुमति देने के आदेश दिये है. हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को आदेश दिये है वो पीजी कोर्ट के लिए याचिकाकर्ता को उसके आरिजनल दस्तावेज प्रदान करे. साथ ही हाईकोर्ट ने राज्य सरकार को याचिकाकर्ता से 5 लाख का बॉण्ड लेने और पीजी पूर्ण करने के पश्चात 3 साल तक सरकारी सेवा करने के आदेश दिये है. यह आदेश जस्टिस सतीश कुमार शर्मा ने डॉ अजय कुमार सैनी व दो अन्य चिकित्सा अधिकारियों की ओर से दायर याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए दिये है.

पूर्व आईएएस अशोक सिंघवी की जमानत पर फैसला सुरक्षित 

याचिकाकर्ता का चयन चिकित्सा अधिकारी के रूप में हुआ: 
याचिकाकर्ता की ओर से पैरवी करते हुए अदालत को बताया कि याचिकाकर्ता का चयन चिकित्सा अधिकारी के रूप में हुआ जिसके बाद सरकार ने उन्हे अलग अलग जगह नियुक्ति दी. इसी दरम्यान उसका चयन नीट पीजी में प्रवेश के लिए भी हो गया. याचिकाकर्ता ने पीजी में प्रवेश के लिए राज्य सरकार से अपने मूल दस्तावेज प्राप्त करने चाहे लेकिन सरकार ने ये कहते हुए इंकार कर दिया कि चिकित्सा अधिकारी के पद पर नियुक्त होने वाले अभ्यर्थि नियुक्ति के 1 साल तक पीजी नहीं कर सकते. वहीं राज्य सरकार की ओर कहा गया कि नियुक्ति आदेश के साथ ही ये शर्त रखी गयी थी कि चिकित्सा अधिकारी की नियुक्ति के एक वर्ष तक वो पीजी में नहीं जा सकते. इसलिए याचिका को स्वीकार नहीं किया जाये. 

हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, सहायक रेडियोग्राफर भर्ती में बैठ पाएंगे अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स 

पूर्व आईएएस अशोक सिंघवी की जमानत पर फैसला सुरक्षित

पूर्व आईएएस अशोक सिंघवी की जमानत पर फैसला सुरक्षित

जयपुर: खानमहाघूसकाण्ड के मुख्य आरोपी और पूर्व आईएएस अशोक सिंघवी की जमानत याचिका पर राजस्थान हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा है. सिंघवी की ओर से पेश जमानत पर दो घण्टे तक चली मैराथन सुनवाई के बाद जस्टिस सतीशकुमार शर्मा ने फैसला सुरक्षित रखने के आदेश दिये हैं. मामले के दूसरे आरोपी मोहम्मद राशीद शेख की जमानत याचिका पर सभी पक्षों की बहस के बाद फैसला सुरक्षित रखा है. 

हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, सहायक रेडियोग्राफर भर्ती में बैठ पाएंगे अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स 

मनी लॉन्ड्रिग विशेष अदालत ने जमानत देने से इंकार कर दिया था: 
बहुचर्चित खान महाघूसकाण्ड के मुख्य आरोपी और पूर्व आईएएस अशोक सिंघवी को जयपुर की मनी लॉन्ड्रिग विशेष अदालत ने जमानत देने से इंकार कर दिया था. सिंघवी की ओर से मनी लॉन्ड्रिंग अदालत के इस फैसले को राजस्थान हाईकोर्ट में चुनौति देते हुए जमानत याचिका दायर कि गयी है. जमानत याचिका पेश कर सिंघवी की ओर से एडवोकेट दीपक चौहान ने सिंघवी के खिलाफ केस झुठा और मनगढ़ंत बताते हुए कहा कि सिंघवी के खिलाफ इस मामले में कोई केस नहीं बनता है. इस केस के अन्य आरोपियों को पूर्व में ही जमानत मिल चुकी है समानता के आधार पर जमानत देनी चाहिए. 

Rajasthan Corona Updates: 115 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, प्रदेश में अब तक की सबसे अधिक पहुंची रिकवरी रेट 

सिंघवी के फोन रिकॉर्डिंग के अहम सबूत मौजूद:
वहीं ईडी की ओर से एएसजी आर डी रस्तोगी ने जमानत याचिका का विरोध करते हुए अदालत को बताया कि ये संपूर्ण घोटाला सिंघवी की देखरेख और मॉनिटरिंग में किया गया है. इस केस में सिंघवी की शह पर ही भ्रष्टाचार किया गया है. सिंघवी खान विभाग के मुखिया थे और वे पहले माईंस को बंद करते थे और फिर फिर शुरू करने के लिए पैसे की डिमांड करते थे. एएसजी ने कहा कि हमारे पास सिंघवी के फोन रिकॉर्डिंग के अहम सबूत मौजूद है. इसलिए सिर्फ समानता के आधार पर मुख्य आरोपी को जमानत नहीं दी जानी चाहिए. दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद जस्टिस सतीश कुमार शर्मा की एकलपीठ ने जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा है. इसके साथ मामले के दूसरे आरोपी मोहम्मद राशीद शेख की जमानत याचिका पर भी फैसला सुरक्षित रखा है. 
 

VIDEO: जयपुर के विधायकों ने की मुख्यमंत्री से मुलाकात, रखी ये मांगें

जयपुर: मुख्यमंत्री आवस से बड़ी खबर निकल कर आई है. जयपुर के विधायकों ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मुलाकात की है. इस दौरान विधायकों ने बिजली के बिल माफ करने की मांग की. मंत्री प्रताप सिंह, मुख्य सचेतक महेश जोशी, रफीक खान, गंगादेवी, वेद सोलंकी व लक्ष्मण मीणा ने मुख्यमंत्री से मांग करते हुए कहा कि सरकार गरीबों व मध्यम वर्ग को राहत दें. 

हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, सहायक रेडियोग्राफर भर्ती में बैठ पाएंगे अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स 

स्कूल-कॉलेजों की परीक्षा नहीं कराने की भी बात रखीं:  
विधायकों ने अब तक के बकाया बिल को दो-तीन किश्त में एडजस्ट कराने की मांग की. इसके साथ ही विधायकों ने स्कूल-कॉलेजों की परीक्षा नहीं कराने की भी बात रखीं. उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगातार कोरोना फैल रहा है. ऐसे में बिना परीक्षा अगली क्लास में प्रमोट किया जाएग. इसके साथ ही स्कूल फीस में भी रियायत देने के प्रयास करने की मांग की. 

Rajasthan Corona Updates: 115 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, प्रदेश में अब तक की सबसे अधिक पहुंची रिकवरी रेट 

मध्य प्रदेश में हुआ शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार, सिंधिया समर्थकों को मिला मौका

मध्य प्रदेश में हुआ शिवराज मंत्रिमंडल का विस्तार, सिंधिया समर्थकों को मिला मौका

भोपाल: मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के मंत्रिमंडल का आज विस्तार हो गया है. मध्य प्रदेश की राज्यपाल (अतिरिक्त प्रभार) आनंदी बेन पटेल ने राजभवन में मंत्रियों को शपथ दिलाई. कुल 28 नए मंत्रियों ने शपथ ली, जिनमें 20 कैबिनेट मंत्री और आठ राज्यमंत्री हैं. कांग्रेस की कमलनाथ सरकार गिरने के बाद जब शिवराज सिंह चौहान ने 23 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, तब कुछ ही मंत्रियों को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया था.

हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, सहायक रेडियोग्राफर भर्ती में बैठ पाएंगे अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स 

इन नेताओं ने ली शपथ: 
मंत्रिमंडल में आज गोपाल भार्गव, यशोधरा राजे सिंधिया, जगदीश देवड़ा, बिसाहूलाल सिंह, विश्वास सारंग, महेंद्र सिंह सिसोदिया, प्रभुराम चौधरी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, प्रेमसिंह पटेल ओमप्रकाश सकलेचा, उषा ठाकुर, अरविंद भदौरिया, मोहन यादव, हरदीप सिंह डंग, राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव, भारत सिंह कुशवाहा, रामकिशोर कांवरे, इंदर सिंह परमार, रामखेलावन पटेल, रामकिशोर कांवरे, बृजेंद्र सिंह यादव, रामकिशोर कांवरे, बृजेंद्र सिंह यादव, गिरिराज दंडोतिया, सुरेश राठखेड़ा, ओपीएस भदौरिया, विजय शाह और एंदल सिंह कसाना ने शपथ ली. 

ये पहले से ही हैं मंत्री:
नरोत्तम मिश्रा, तुलसीराम सिलावट, कमल पटेल, गोविंद सिंह राजपूत और मीना सिंह 23 मार्च को ही शपथ ले चुके. 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों की छाप देखने को मिली:
मंत्रिमंडल विस्तार में ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थकों की छाप देखने को मिली. शपथ ग्रहण में खुद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद रहे. कैबिनेट विस्तार से पहले शिवराज ने दिल्ली आकर शीर्ष नेतृत्व के साथ मंथन किया था. 

शिवराज चौहान ने 23 मार्च को ली थी शपथ:
दरअसल, पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक छह मंत्रियों समेत 22 विधायकों के कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद 20 मार्च को कमलनाथ को इस्तीफा देना पड़ा था और 15 महीने पुरानी कांग्रेस सरकार गिर गई थी. शिवराज चौहान ने इस साल 23 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 19148 मामले आए सामने, देश में कुल मरीजों का आंकड़ा 6 लाख के पार 

मध्य प्रदेश विधानसभा में कुल 230 सदस्य:
बता दें कि मध्य प्रदेश विधानसभा में कुल 230 सदस्य हैं. इस लिहाज से अधिकतम 35 विधायक मंत्री बनाए जा सकते हैं. जब शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, तब कैबिनेट में सिर्फ 6 मंत्री ही शामिल हुए थे.

हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, सहायक रेडियोग्राफर भर्ती में बैठ पाएंगे अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स

हाईकोर्ट ने दी बड़ी राहत, सहायक रेडियोग्राफर भर्ती में बैठ पाएंगे अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स

जयपुर: राजस्थान सरकार द्वारा 12 जून 2020 को जारी कि गयी सहायक रेडियोग्राफर के 1257 पदों कि भर्ती में डिप्लोमा इन रेडिएशन टेक्नोलॉजी के फाइनल ईयर के स्टूडेंट भी शामिल हों सकेंगे. राजस्थान हाईकोर्ट ने अंतिम वर्ष के स्टूडेंट को बड़ी राहत देते हुए इन स्टूडेंट को परीक्षा में शामिल करने के आदेश दिये हैं. जस्टिस अभय चतुर्वेदी की एकलपीठ ने राज्य सरकार को इन स्टूडेंट के आफलाईन आवेदन स्वीकार करने के साथ बिना कोर्ट की अनुमति के परीक्षा परिणाम जारी नहीं करने के भी आदेश दिये है. एकलपीठ ने राजेन्द्र प्रसाद कुड़ी सहित 13 अन्य स्टूडेंट की ओर से दायर याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए ये आदेश दिये हैं. इसके साथ ही राज्य के प्रमुख सचिव चिकित्सा, निदेशक चिकित्सा, चैयरमेन कर्मचारी चयन बोर्ड को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है. 

Rajasthan Corona Updates: 115 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, प्रदेश में अब तक की सबसे अधिक पहुंची रिकवरी रेट 

सहायक रेडियोग्राफर के 1257 पदों पर भर्ती निकाली: 
राजस्थान अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड ने हाल ही में सहायक रेडियोग्राफर के 1257 पदों पर भर्ती निकाली है. लेकिन मौजूदा स्थिति में वर्ष 2016 की भर्ती के बाद राजस्थान पैरामेडिकल काउंसिल में मात्र 642 ही डिप्लोमाधारी पंजीकृत हैं. इसमें आरयूएचएस के 417, टेक्नीकल बोर्ड एज्यूकेशन जोधपुर के 65 व वर्ष 2000 से पहले 9 माह के डिप्लोमा वाले 160 अभ्यर्थी शामिल हैं. सत्र 2016-17 में पैरामेडिकल कोर्सेज में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों की परीक्षा टाइम टेबल अब जारी कर दिया गया है. परीक्षा 9 जुलाई से आयोजित होगी. ऐसे में 14 स्टूडेंट ने याचिका दायर कर परीक्षा में शामिल करने की गुहार लगायी थी. 

स्टूडेंट को नुकसान नहीं होने देने की गुहार लगायी थी:
याचिकाकर्ताओं की ओर से एडवोकेट रघुनंदन शर्मा ने पैरवी करते हुए राजस्थान पैरामेडिकल काउंसिल की लेटलतिफी के लिए स्टूडेंट को नुकसान नहीं होने देने की गुहार लगायी थी. जिसे अदालत ने मंजूर करते हुए याचिकाकर्ता स्टूडेंट को परीक्षा में शामिल करने की अनुमति दी है. 

VIDEO: रोडवेज में मितव्ययता बरतने के लिए सीएमडी नवीन जैन ने जारी किया सर्कुलर  

लेटतलीफी के चलते आवेदन करने से वंचित होना पड़ रहा: 
गौरतलब है कि डिप्लोमा इन रेडिएशन टेक्नोलॉजी के 400 से ज्यादा विद्यार्थियों को राजस्थान पैरामेडिकल काउंसिल की लेटतलीफी के चलते सहायक रेडियोग्राफर भर्ती में आवेदन करने से वंचित होना पड़ रहा है. सत्र 2015-16 में इन विद्यार्थियों ने दो साल के इस डिप्लोमा में प्रवेश लिया था. लेकिन तीन साल बीत जाने के बाद भी अभी तक डिप्लोमा कोर्स पूरा नहीं होने से सहायक रेडियोग्राफर के 1257 पदों पर निकली भर्ती के लिए वे आवेदन तक नहीं कर सकते. अभी तक इनकी प्रथम वर्ष की परीक्षा ही हुई है. सैकंड ईयर की परीक्षा बाकी है. 

Rajasthan Corona Updates: 115 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, प्रदेश में अब तक की सबसे अधिक पहुंची रिकवरी रेट

Rajasthan Corona Updates: 115 नए पॉजिटिव मामले आए सामने, प्रदेश में अब तक की सबसे अधिक पहुंची रिकवरी रेट

जयपुर: राजस्थान में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है. स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश में 115 नए पॉजिटिव मामले सामने आए हैं तो वहीं 5 लोगों की मौत भी हुई है. इसमें बाड़मेर में एक, बीकानेर में दो और जोधपुर में दो लोगों ने दम तोड़ा है. ऐसे में प्रदेश में मौत का आंकड़ा बढ़कर 426 पहुंच गयी है. वहीं नए मामले सामने आने के बाद पॉजिटिव मरीजों का ग्राफ भी बढ़कर 18427 पहुंच गया है. 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 19148 मामले आए सामने, देश में कुल मरीजों का आंकड़ा 6 लाख के पार 

सर्वाधिक 21 कोरोना पॉजिटिव मरीज उदयपुर में मिले: 
आज सामने आए मरीजों में सर्वाधिक 21 कोरोना पॉजिटिव मरीज उदयपुर में मिले हैं. इसके अलावा अजमेर 4, अलवर 1, बाड़मेर 1, भरतपुर 6, बीकानेर 12, बूंदी 1, दौसा 2, धौलपुर 10, डूंगरपुर 1, जयपुर 9, जालोर 9, झुंझुनूं 2, करौली 5, कोटा 4, नागौर 8, राजसमंद 10, सवाई माधोपुर 1, सिरोही 5 और दूसरे राज्य का एक मरीज कोरोना पॉजिटिव मिला है. 

VIDEO: रोडवेज में मितव्ययता बरतने के लिए सीएमडी नवीन जैन ने जारी किया सर्कुलर  

प्रदेश में अब तक की सबसे अधिक पहुंची रिकवरी रेट: 
वहीं राहत वाली खबर यह है कि अब तक 14643 मरीज पॉजिटिव से नेगेटिव हुए हैं. इसमें से 14340 मरीजों को अस्पताल में डिस्चार्च किया जा चुका है. अस्पताल में उपचाररत कुल एक्टिव मरीजों की संख्या 3358 है. ऐसे में प्रदेश के लिए खुशी की बात यह है कि अब तक की सबसे अधिक रिकवरी रेट पहुंची है. रिकवरी रेट पहली बार 80 प्रतिशत के आसपास पहुंची है. 


 

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 19148 मामले आए सामने, देश में कुल मरीजों का आंकड़ा 6 लाख के पार

Coronavirus Updates: पिछले 24 घंटे में 19148 मामले आए सामने, देश में कुल मरीजों का आंकड़ा 6 लाख के पार

नई दिल्ली: देश में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा अपडेट के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 19 हजार 148 नए मामले सामने आए और 434 मौतें हुईं. ऐसे में देश में कुल मरीजों की संख्या 6 लाख 4 हजार 641 है, जिसमें 17 हजार 834 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना से अब तक करीब 3 लाख 60 हजार मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि एक्टिव केस की संख्या करीब 2 लाख 27 हजार है.

VIDEO: रोडवेज में मितव्ययता बरतने के लिए सीएमडी नवीन जैन ने जारी किया सर्कुलर  

परीक्षण किए गए नमूनों की कुल संख्या 90,56,173: 
भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) की ओर से जारी आकंड़े के मुताबिक, देशभर में एक जुलाई तक परीक्षण किए गए नमूनों की कुल संख्या 90,56,173 है. जिनमें से 2,29,588 नमूनों का परीक्षण पिछले 24 घंटे में किया गया है.  

देश में सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में:
आंकड़ों के मुताबिक, देश में सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. महाराष्ट्र में 79 हजार से ज्यादा संक्रमितों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है. इसके बाद दूसरे नंबर पर दिल्ली, तीसरे नंबर पर तमिलनाडु, चौथे नंबर पर गुजरात और पांचवे नंबर पर पश्चिम बंगाल है. इन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं.

VIDEO: हाउसिंग बोर्ड ने धमाकेदार परफॉर्मेंस से अपना ही विश्व रिकॉर्ड तोड़ा, 12 दिन में ही 1213 आवासों की नीलामी   

दुनिया का चौथा सबसे प्रभावित देश:
भारत कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से दुनिया का चौथा सबसे प्रभावित देश है. अमेरिका, ब्राजील, रूस के बाद कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में भारत चौथे नंबर पर है. लेकिन भारत में मामले बढ़ने की रफ्तार दुनिया में तीसरे नंबर पर बनी हुई है. अमेरिका और ब्राजील के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मामले भारत में दर्ज किए जा रहे हैं.

Open Covid-19