यूपी: भूखे बच्चों के लिए पड़ोसियों से मदद मांगना पत्नी को पड़ा महंगा, शर्मिंदगी के चलते युवक ने दिया तलाक

यूपी: भूखे बच्चों के लिए पड़ोसियों से मदद मांगना पत्नी को पड़ा महंगा, शर्मिंदगी के चलते युवक ने दिया तलाक

यूपी: भूखे बच्चों के लिए पड़ोसियों से मदद मांगना पत्नी को पड़ा महंगा, शर्मिंदगी के चलते युवक ने दिया तलाक

बरेली(यूपी): कोरोना संकट में बच्चों के लिए पत्नी के बार-बार पड़ोसियों और रिश्तेदारों से मदद मांगना महंगा पड़ गया. शर्मिंदगी के चलते पति ने इस कदर अपना आपा खोय कि उसने पहले तो पत्नी की जनकर पिटाई की और उसके बाद उसे तीन तलाक देकर बच्चों के साथ घर से निकाल दिया. एजाज नगर गौटिया में रहने वाली एक युवती की शादी करीब दस साल पहले इलाके के एक युवक से हुई थी. 

कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर आई खुशखबरी! बंदर के बाद इंसानों पर चल रहा ट्रायल 

परिचितों से मदद मांगना पति को अच्छा नहीं लगता था:
युवती के अनुसार पति मेलों में झूले लगाने का काम करता हैं. युवती के अनुसार लॉकडाउन में धंधा ठप होने की वजह से परिवार पालने में परेशानियां हो रही थीं. बच्चों को भूखा देखकर उसने पिछले दिनों कई बार रिश्तेदारों और पड़ोसियों से मदद मांगी थी. ऐसे में परिचितों से मदद मांगना पति को अच्छा नहीं लगता था. इसी के चलते वह कई बार उससे गालीगलौज भी कर चुका था. 

कोरोना संकट के बीच भारत को वर्ल्ड बैंक ने दी बड़ी राहत, मिलेगा 1 बिलियन डॉलर का पैकेज 

पति ने गुस्से में तीन तलाक दे दिया:
बुधवार रात भी घर में जब राशन खत्म हो गया था. रात तो किसी तरह काट ली लेकिन सुबह वह पड़ोस में रहने वाले अपने एक रिश्तेदार के यहां राशन मांगने चली गई थीं. वहां से लौटी दरवाजे पर खड़े पति ने उसे पीटना शुरू कर दिया. शोर सुनकर आसपास के लोगों ने बीच बचाव किया तो पति ने गुस्से में तीन तलाक दे दिया और बच्चों के साथ धक्का देकर घर से निकाल दिया. इसके बाद वह अगली गली में ही रने वाली अपने बहन के घर चली गई. 

और पढ़ें