विकास दुबे ने की थी पुलिसकर्मी की पिस्‍टल छीनने की कोशिश, पुलिस वैन पलटी और फिर खेल खत्म

विकास दुबे ने की थी पुलिसकर्मी की पिस्‍टल छीनने की कोशिश, पुलिस वैन पलटी और फिर खेल खत्म

कानपुर: आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का मास्टरमाइंड विकास दुबे का एनकाउंटर में अंत हो गया है. विकास को कमर में गोली लगी है जिसके बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया था. जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. एनकाउंटर में STF के दो जवान भी घायल हुए हैं. दरअसल, कानपुर आते ही पुलिस के गाड़ी रास्ते में पलट गई. इसी दौरान विकास दुबे ने पुलिस के एक जवान से हथियार छीनकर भागने की कोशिश की और पुलिस की जवाबी कार्रवाई में उसे 3 गोलियां लगीं. 

RPSC ने जारी किया RAS मेन-2018 का परिणाम, 1051 पदों के लिए जारी हुआ परिणाम

एसटीएफ ने विकास से हथियार रखकर सरेंडर करने को कहा: 
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, बर्रा के पास अचानक रास्‍ते में गाड़ी पलट गई. इस हादसे में विकास दुबे और एक सिपाही को भी चोटें आईं. इसके बावजूद भी विकास ने भागने का प्रयास किया. साथ ही इस दौरान उसने मौका देखकर एसटीएफ के एक अधिकारी की पिस्टल छीनकर का भी प्रयास किया. इस के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई.  एसटीएफ ने विकास से हथियार रखकर सरेंडर करने को कहा. वह इसके बावजूद नहीं माना तो पुलिस को मजबूरन एनकाउंटर करना पड़ा. 

गाड़ी पलटते वक्त कानपुर में तेज बारिश हो रही थी:
बता दें कि जिस वक्त ये गाड़ी पलटी थी, उस वक्त कानपुर में तेज बारिश हो रही थी. एसटीएफ की गाड़ी काफी तेज रफ्तार से दौड़ रही थी, क्योंकि पीछे लगातार मीडिया की गाड़ी थी. इसी तेज रफ्तार के दौरान गाड़ी पलट गई.

VIDEO: अजमेर में सोनोग्राफी करवाने गई युवती के साथ छेड़छाड़, युवक की लात-घूंसों और चप्पलों से की पिटाई

उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से किया था गिरफ्तार:
इससे पहले आठ पुलिस वालों की हत्या करने वाले पांच लाख के इनामी और यूपी के मोस्ट वांटेड अपराधी विकास दुबे को बृहस्पतिवार सुबह बेहद नाटकीय तरीके से उज्जैन के महाकाल मंदिर परिसर से गिरफ्तार किया गया. वारदात के बाद से फरार विकास यूपी, दिल्ली, हरियाणा और मध्य प्रदेश पुलिस को चकमा देकर दर्शन करने मंदिर पहुंचा था. गिरफ्तारी के बाद विकास से पुलिस ट्रेनिंग सेंटर में दो घंटे से ज्यादा पूछताछ की गई. 
 

और पढ़ें