चार साल में एक बार नहीं खोली गरिमा पेटी, बेटियों के हाथ लगी निराशा