रौद्र रूप में दिख रही चंबल नदी, खतरे के निशान से बह रही 10 मीटर ऊपर