जयपुर VIDEO: 1st इंडिया न्यूज के 8 साल हुए पूरे, चैनल हेड और डायरेक्टर ने जताया दर्शकों का आभार

VIDEO: 1st इंडिया न्यूज के 8 साल हुए पूरे, चैनल हेड और डायरेक्टर ने जताया दर्शकों का आभार

जयपुर: फर्स्ट इंडिया न्यूज की स्थापना को 8 साल पूरे हो चुके हैं. 30 नवम्बर 2013 को 1st इंडिया न्यूज़ का आगाज़ हुआ था. जिसके बाद से चैनल सीढ़ी दर सीढ़ी चढ़कर आज शिखर पर पहुंच चुका है. हर खबर को सबसे पहले दिखाने के लक्ष्य के साथ फर्स्ट इंडिया का सफर लगातार जारी है. 

1st इंडिया को लगातार दर्शकों का प्यार मिल रहा है. दर्शकों का विश्वास ही हमारी ताकत है. इसके साथ ही जब एक प्रदेश के मुख्यमंत्री की ज़ुबान पर किसी न्यूज़ चैनल का नाम हो तो इससे बड़ी बात कुछ और नहीं हो सकती है. लेकिन इस मुकाम पर पहुंचने के लिए काफी मेहनत लगती है. पूरी टीम को दिन-रात एक करना होता है. जो एक साल नहीं, 2 साल नहीं, तीन साल नहीं बल्कि पिछले 8 सालों से लगातार जारी है,, और, आने वाले सालों तक लगातार जारी रहेगी. 30 नवम्बर 2013 को रोपा गया एक पौधा आज न्यूज़ की दुनिया का वट वृक्ष बन चुका है...और इस वट वृक्ष की शाखाएं चैनल हेड जगदीश चंद्र के नेतृत्व में और घनी होती जा रही है.

चैनल हेड ने किया आगे भी दर्शकों के भरोसे पर खरा उतरने का वादा:
चैनल हेड जगदीश चंद्र का भी कहना है कि फर्स्ट इंडिया आम व्यक्ति, किसान और समाज के हर व्यक्ति से जुड़ा चैनल है...और चैनल को इस मुकाम तक पहुंचाने में करोड़ों दर्शकों का सहयोग रहा है. जगदीश चंद्र ने वादा किया है कि आने वाले वक्त में भी फर्स्ट इंडिया दर्शकों के भरोसे पर पूरी तरह खरा उतरेगा.  

डायरेक्टर वीरेंद्र चौधरी ने दी शुभकामनाएं:
चैनल के डायरेक्टर वीरेंद्र चौधरी ने भी 8 साल पूरे होने के मौके पर फर्स्ट इंडिया परिवार को शुभकामनाएं दी हैं. साथ ही कहा है कि अपनी मेहनत के दम पर चैनल यूं ही बुलंदियों को छूता रहेगा.  

फर्स्ट इंडिया सोशल प्लेटफॉर्म्स पर भी छाया हुआ:
चाहे खबर की शुरुआत हो या खबर का फॉलोअप. चाहे रिपोर्टिंग हो या रिपोर्ट की साज-सज्जा. फर्स्ट इंडिया अपनी क्रिएटिवटी से न्यूज़ की दुनिया का बादशाह बना हुआ है. क्योंकि ना केवल दर्शकों को हर खबर सबसे पहले और सबसे तेज़ दिखाना बल्कि हर उस बारीकी से रू-ब-रू करवाना चैनल का लक्ष्य है. जिसे जानना हर दर्शक के लिए ज़रूरी है. यही कारण है कि फर्स्ट इंडिया सोशल प्लेटफॉर्म्स पर भी छाया हुआ है. यू-ट्यूब पर फर्स्ट इंडिया के 25 लाख सब्सक्राइबर हैं...तो वहीं 600 मिलियन्स व्यूज़ हैं. वहीं फेसबुक पर 12 लाख, ट्विटर पर 11 लाख और फर्स्ट इंडिया की वेबसाइट पर 35 लाख से 55 लाख तक मंथली ट्रैफिक रहता है. ये सब कुछ इसीलिए है क्योंकि हर खबर में फर्स्ट रहना हमारी आदत बन चुकी है...तभी तो हम फर्स्ट इंडिया कहलाते हैं.

और पढ़ें