पूर्व केंद्रीय मंत्री राजेश पायलट की पुण्यतिथि, जानिए कहां से हुई थी उनकी सियासत में एंट्री

जयपुर: आज स्व.राजेश पायलट की पुण्य तिथि है. यूपी में दिल्ली के समीप वैदपुरा के किसान गुर्जर परिवार में राजेश पायलट जन्मे थे. उन्होंने अपना पहला चुनाव भरतपुर से लड़ा और जीता, लेकिन कर्मस्थली दौसा को बनाया. 

उन्होंने दौसा को देश के राजनीतिक मानचित्र पर पहचान दिलाई. 1980 में भरतपुर से सांसद बने, इसके बाद 5 लोकसभा चुनाव दौसा से जीते. राजीव गांधी की सरकार में अहम ओहदों पर रहे. भूतल परिवहन, सूचना प्रसारण, गृह महकमे को संभाला.

राजेश पायलट ने राजीव गांधी के सूचना क्रांति के ड्रीम प्रोजेक्ट को सफल बनाया. गृह रक्षा राज्यमंत्री के तौर पर कश्मीर समस्या के समाधान पर काम किया. देश के डाकघरों को अत्याधुनिक बनाने में राजेश पायलट का अहम योगदान रहा. 

कांग्रेस संगठन में आंतरिक लोकतंत्र की आवाज बुलंद की.  साल 2000 में 11जून को दौसा के समीप सड़क दुर्घटना में राजेश पायलट का निधन हो गया और एक महान व्यक्तित्व हमारे बीच से चला गया.