कोलंबो श्रीलंकाई नौसेना ने 24 भारतीय मछुआरों को किया गिरफ्तार

श्रीलंकाई नौसेना ने 24 भारतीय मछुआरों को किया गिरफ्तार

श्रीलंकाई नौसेना ने 24 भारतीय मछुआरों को किया  गिरफ्तार

कोलंबो: श्रीलंकाई नौसेना ने देश के क्षेत्रीय जल में कथित रूप से मछलियां पकड़ने को लेकर 24 भारतीय मछुआरों को गिरफ्तार किया है और उनकी पांच नौकाओं को जब्त कर लिया है. एक आधिकारिक बयान में मंगलवार को यह जानकारी दी गई.

बयान में बताया गया कि उत्तरी जाफना प्रायद्वीप में करैनगर के तट पर नौसेना और श्रीलंका तटरक्षक बल के एक संयुक्त अभियान के दौरान सोमवार शाम मछुआरों को गिरफ्तार किया गया. नौसेना ने बताया कि बाद में उन्हें कांकेसंथुराई बंदरगाह लाया गया और आगे की कार्रवाई के लिए मत्स्य निरीक्षक को सौंप दिया गया. उन्होंने बताया कि इस साल अब तक कुल 252 भारतीय मछुआरों को श्रीलंकाई जलक्षेत्र में अवैध रूप से मछलियां पकड़ने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है.

जल क्षेत्र में बड़ी संख्या में मछलियां मिलती हैं:
मछुआरों को गिरफ्तार किए जाने का मामला भारत और श्रीलंका के बीच विवाद का विषय रहा है. श्रीलंकाई नौसेना के कर्मी कई मामलों में पाक जलडमरूमध्य में भारतीय मछुआरों पर गोलीबारी भी करते हैं और श्रीलंका के जल क्षेत्र में प्रवेश करने के आरोप में उनकी नौकाओं को जब्त कर लेते हैं. पाक जलडमरूमध्य श्रीलंका से तमिलनाडु को अलग करने वाला एक जलडमरूमध्य है और इस जल क्षेत्र में बड़ी संख्या में मछलियां मिलती हैं.

नौसेना के कब्जे से वापस लिया जा सके:
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने सोमवार को केंद्र से इस मामले को लेकर संपर्क किया और कार्रवाई करने की मांग की, ताकि पड़ोसी देश से मछुआरों को रिहा कराया जा सके और उनकी नौकाओं को श्रीलंकाई नौसेना के कब्जे से वापस लिया जा सके. विदेश मंत्री एस जयशंकर को लिखे पत्र में स्टालिन ने कहा कि श्रीलंकाई नौसेना ने सिर्फ इस वर्ष तमिलनाडु के 221 मछुआरों को पकड़ा है. श्रीलंकाई नौसेना द्वारा मछुआरों को बार-बार गिरफ्तार किए जाने से तमिलनाडु के उस मछुआरा समुदाय में गंभीर तनाव और गुस्सा है जो पूरी तरह से मछली पकड़ने पर निर्भर हैं.

लगातार प्रयासों के कारण श्रीलंका ने रिहा कर दिया:
तमिलनाडु के मछुआरों की मछली पकड़ने वाली 105 नौकाएं अब तक श्रीलंका के कब्जे में हैं. स्टालिन ने कहा कि पिछली घटनाओं में पकड़े गए मछुआरों को सरकार के लगातार प्रयासों के कारण श्रीलंका ने रिहा कर दिया था. उन्होंने कहा कि लेकिन, उनकी मछली पकड़ने वाली नौकाएं अब भी श्रीलंका के कब्जे हैं. मुख्यमंत्री ने विदेश मंत्री से कहा कि मैं आपसे श्रीलंकाई नौसेना को हमारे मछुआरों को पकड़ने से रोकने के लिए आवश्यक कूटनीतिक पहल करने का अनुरोध करता हूं. साथ में उनकी नौकाओं को भी छुड़ाने का आग्रह करता हूं. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें