कॉटन में द्रविड़ और गांगुली के चौकों छक्कों की बारिश से मैं प्रभावित हुआ था- बटलर

कॉटन में द्रविड़ और गांगुली के चौकों छक्कों की बारिश से मैं प्रभावित हुआ था- बटलर

कॉटन में द्रविड़ और गांगुली के चौकों छक्कों की बारिश से मैं प्रभावित हुआ था- बटलर

लंदन: इंग्लैंड के बल्लेबाज जोस बटलर (Batsman Jose Butler) ने कहा है कि भारतीय दिग्गज राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली के 1999 विश्व कप (World Cup) में श्रीलंका के खिलाफ टॉटन में लगाये शतकों का उन पर अविश्वसनीय प्रभाव पड़ा था. उनके द्वारा उस समय लगाए गए ताबड़तोड़ चौकों छक्कों ने उन्हे बहुत प्रभावित किया था.

उस मैच के दौरान क्रिकेट का हिस्सा नहीं थे बटलर:
गांगुली (Sourav Ganguly) और द्रविड़ (Rahul Dravid) ने दूसरे विकेट (Second Wicket) के लिये 318 रन की बड़ी साझेदारी करके भारत को आसान जीत दिलाई थी. जब यह मैच खेला गया था तब T-20 प्रारूप क्रिकेट का हिस्सा नहीं था, लेकिन उस दिन दोनों भारतीय बल्लेबाजों के बल्लों से टॉटन (Totton) में चौकों और छक्कों की बरसात हुई थी जैसे कि अब आक्रामक बल्लेबाज बटलर अमूमन करते हैं.

​मैच देखने में भारतीय दर्शकों की उपस्थिति बनी हैरानी का कारण:
बटलर ने क्रिकबज (Cricbuzz) से कहा कि वे मेरे शुरुआती वर्ष थे तथा उस मैच में गांगुली और द्रविड़ को बड़े शतक बनाते हुए देखने का मुझ पर अविश्वसनीय प्रभाव पड़ा था. उन्होंने इंग्लैंड (England) में खेले गये उस मैच में बड़ी संख्या में भारतीय दर्शकों की उपस्थिति पर हैरानी जतायी.

बटलर ने कहा कि भारत और श्रीलंका (Sri Lanka) के बीच 1999 विश्व कप का मैच भारतीय दर्शकों को देखने का मेरा पहला अनुभव था और इससे मेरे अंदर का जोश जगा कि लोग खेल के प्रति कितने जुनूनी हैं और विश्व कप में खेलना कितना अच्छा होगा.

और पढ़ें