वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना में फेरबदल, जनसंख्या के अनुपात में कोटा तय

Nirmal Tiwari Published Date 2019/07/20 09:31

जयपुर: वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना में फेरबदल किया गया है. अब प्रत्येक जिले में वरिष्ठ नागरिकों को वहां की जनसंख्या के अनुपात में योजना का लाभ मिलेगा. देवस्थान विभाग ने जनसंख्या के आधार पर यात्रा के लिए प्रत्येक जिले का कोटा तय कर दिया है. देश में योजना के तहत मिले आवेदनों में चयनित कुल 10000 वरिष्ठ नागरिकों को धार्मिक स्थलों की यात्रा करवाई जाएगी. इनमें से 5000 को ट्रेन से और 5000 बुजुर्गों को हवाई जहाज से तीर्थ यात्रा करने का अवसर मिलेगा.

ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 जुलाई: 
यात्रा के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की अंतिम तिथि 28 जुलाई है. प्रत्येक जिले में कलक्टर कार्यालय में कंप्यूटर लॉटरी से यात्रियों का चयन किया जाएगा. लॉटरी अगस्त के पहले सप्ताह में जिलेवार निकाली जाएगी. देवस्थान उपायुक्त मुकेश कायथवाल ने बताया कि 19 जुलाई तक देश से 24578 आवेदन मिले हैं. इन आवेदनों में 42 हजार 953 वरिष्ठ नागरिकों ने निशुल्क तीर्थ यात्रा करने की इच्छा प्रकट की है. इनमें से 19569 को हवाई तीर्थ यात्रा और 24742 वरिष्ठ नागरिकों को ट्रेन से तीर्थ यात्रा करनी है.

पहली बार शुरू की जा रही विदेश तीर्थयात्रा: 
जयपुर जिले की बात करें तो 5681 वरिष्ठ नागरिकों के 3316 आवेदन प्राप्त हुए हैं. पहली बार शुरू की जा रही विदेश तीर्थयात्रा के अंतर्गत प्रदेश भर से हवाई जहाज से तीर्थ यात्रा करने वाले 11942 बुजुर्गों ने पहली प्राथमिकता के तौर पर नेपाल के पशुपतिनाथ ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने की इच्छा प्रकट की है. जबकि भारत में गंगासागर तीर्थ स्थल पर जाने की 2146 ने पहली प्राथमिकता, 4788 ने दूसरी प्राथमिकता और 4520 वरिष्ठ नागरिकों में तीसरी प्राथमिकता तय की है. 

First India News से जुड़े अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे!
हर पल अपडेट रहने के लिए अभी डाउनलोड करें First India News Mobile Application
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBE चैनल को विजिट करें

और पढ़ें

Most Related Stories

Stories You May be Interested in