दिल्ली मेट्रो के यात्रियों की संख्या कोविड से पहले की तादाद के 90 प्रतिशत के आसपास पहुंची

नई दिल्ली: डीएमआरसी के प्रमुख विकास कुमार ने बुधवार को कहा कि दिल्ली मेट्रो ने कोरोना वायरस महामारी से उत्पन्न चुनौतियों का “दक्षता और धैर्य” से सामना किया है और कोविड-19 से पहले मेट्रो यात्रियों की जितनी संख्या थी, उसमें से 90 प्रतिशत यात्री मेट्रो से सफर करने लगे हैं.

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) के 29वें स्थापना दिवस पर यहां मेट्रो भवन में अपने संबोधन में कुमार ने यह भी कहा कि डीएमआरसी ने बाधाओं के बावजूद “कई नए आयाम स्थापित किए हैं.
कुमार ने कहा कि कोविड-19 ने दिल्ली मेट्रो के सामने चुनौतियां पेश कीं और इसका संचालन प्रभावित हुआ, लेकिन डीएमआरसी ने दक्षता और धैर्य से इनका सामना किया.

डीएमआरसी प्रमुख ने कहा कि हमने धीरे-धीरे अपने यात्रियों का विश्वास फिर से हासिल कर लिया. मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि कोविड-19 से पहले यात्रियों की जो संख्या थी, उसकी 90 प्रतिशत यात्री संख्या हमने हासिल कर ली है. एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि महामारी से पहले यात्रियों की संख्या 60-65 लाख थी. अब यह 50-55 लाख के आसपास पहुंच गई है. डीएमआरसी के स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में आवास एवं शहरी मामलों के सचिव मनोज जोशी और दिल्ली के मुख्य सचिव नरेश कुमार तथा अन्य ने शिरकत की. सोर्स भाषा