अमेठी में स्मृति ईरानी से लेकर तिरुवनंतपुरम से राजीव चंद्रशेखर को मिली पराजय, जानिए आखिर कितने केंद्रीय मंत्रियों ने देखा हार का मुंह ?

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव के नीतजे आ गए है. एनडीए ने चुनावी नतीजों में बहुमत हासिल किया है. इसके साथ ही एक बार फिर से सरकार बनाने की ओर आगे बढ़ चले है. लेकिन पिछली बार के मुकाबले इस बार बीजेपी सहित एनडीए के कई बड़े चेहरों को हार का स्वाद चखना पड़ा है. सरकार के 15 मंत्रियों को वोटों के रण में हार मिली है. तो आइये जानते है कौन है वो चेहरे. 

सरकार के 15 मंत्रियों ने हार का स्वाद चखा है. अमेठी से स्मृति ईरानी, तिरुवनंतपुरम से राजीव चंद्रशेखर, लखीमपुर खीरी सीट से अजय मिश्र टेनी को हार झेलनी पड़ी है. बांकुरा से सुभाष सरकार, खूंटी से अर्जुन मुंडा, बाड़मेर से कैलाश चौधरी को हार मिली है.  

इसके अलावा नीलगिरी से एल मुरुगन, कूचबिहार से निसिथ प्रमाणिक, मुजफ्फरनगर से संजीव बालियान,बीदर से भगवंत खूबा, मोहनलालगंज सीट से कौशल किशोर, चंदौली से महेन्द्र नाथ पांडे, भिवंडी से कपिल पाटिल, जालना सीट से रावसाहेब दानवे और डिंडोरी सीट से भारती पवार को बड़े अंतर से मात दी. 

नतीजों में एनडीए ने अपना परचम लहराया है. बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए ने 292 सीटों पर जीत दर्ज की और बहुमत हासिल किया है. बीजेपी ने अकेले 240 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं विपक्षी गठबंधन इंडिया ब्लॉक ने 234 सीटें जबकि अन्य ने 17 सीटों पर विजय दर्ज की है.

सूत्रों के मुताबिक 8 जून को मोदी सरकार का शपथ ग्रहण होगा. हालांकि इस बार बीजेपी को बहुमत नहीं मिला है. परिणामों में बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए ने 292 सीटों पर जीत दर्ज की और बहुमत हासिल किया है. इसको लेकर राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण की तैयारियां शुरू कर दी गई है. सूत्रों का कहना है कि नरेन्द्र मोदी 8 जून को तीसरी बार लेंगे पीएम पद की शपथ लेंगे. राष्ट्रपति भवन में शाम 7 से 8 बजे के बीच शपथ ग्रहण संभव माना जा रहा है