जयपुर Rajasthan Assembly Budget Session : अब 8 की जगह 10 फरवरी को बजट पेश करेंगे सीएम अशोक गहलोत, BAC की बैठक में हुआ फैसला

Rajasthan Assembly Budget Session : अब 8 की जगह 10 फरवरी को बजट पेश करेंगे सीएम अशोक गहलोत, BAC की बैठक में हुआ फैसला

जयपुर: आज विधानसभा के बजट सत्र की हंगामे के साथ शरूआत हो गई है. 2 फरवरी को राज्यपाल के अभिभाषण पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जवाब देंगे. 24, 30 और 31 जनवरी को अभिभाषण पर चर्चा होगी. साथ ही अब सीएम अशोक गहलोत 10 फलवरी को बजट पेश करेंगे. पहले बजट 8 फरवरी को पेश होना था. इसको लेकर BAC की बैठक में फैसला हुआ है. 

इससे पहले आज बजट सत्र की शरूआत राज्यपाल कलराज मिश्र के अभिभाषण के साथ शुरू हुआ. विपक्षी भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने भर्ती परीक्षा पेपर लीक प्रकरण की सीबीआई जाँच करवाने की माँग को लेकर नारेबाजी की. राज्यपाल के अभिभाषण के बीच पेपर लीक के मामले पर सदन में जमकर हंगामा हुआ. इस दौरान बीजेपी विधायक वेल में आ आए. विधानसभा में राज्य सरकार वीक है, हर पेपर लीक है के जमकर नारे लगे. वहीं इस दौरान सदन में फसल खराबे का मुद्दा भी उठा. इसके बाद सदन की कार्यवाही को कल सुबह 11 बजे तक स्थगित कर दिया गया. 

आज राज्यपाल का अभिभाषण सदन की मेज पर रखा गया. अब सदन में राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा होगी. इससे पहले आज विधानसभा में शोकाअभिव्यक्ति हुई. पूर्व राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी, पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव, पूर्व विधायक भंवरलाल शर्मा, पूर्व सदस्य राजेंद्र कुमार भारतीय व जोधपुर के भूंगरा दुखांतिक के मृतकों को शोकाभिव्यक्ति दी गई. 

इस विधानसभा सत्र में कई मसलों की गूंज सुनाई देगी:
वहीं इस विधानसभा सत्र में कई मसलों की गूंज सुनाई देगी. चुनावी साल है लिहाजा विपक्ष पीछे नहीं रहेगा. पेपर लीक, कांग्रेस विधायकों के इस्तीफो का मसला, सरकारी भर्ती, जिलों की मांग, बिजली संकट, बढ़ते अपराध के मामले, भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारी, किसान कर्ज माफी समेत कई मामलों की गूंज सुनाई देगी. हंगामे के प्रबल आसार है. सत्ताधारी दल को पार्टी की आंतरिक फूट के चलते अपनों से भी जूझना पड़ सकता है. इसी सत्र के दौरान राइट टू हेल्थ बिल पर पुनर्विचार को लेकर प्रवर समिति की बैठक भी बुलाई गई है. चुनावी साल में राजस्थान की मौजूदा कांग्रेस सरकार का ये अंतिम बजट है. विधानसभा के बजट सत्र मे सिलसिलेवार विभिन्न ज्वलंत मुद्दों की गूंज सुनाई देगी. प्रमुख विपक्षी दल बीजेपी हंगामा बरपाने को तैयार है. लेकिन सबसे अधिक गूंज सुनाई देने वाली है पेपर लीक प्रकरण की. 

और पढ़ें