नई दिल्ली बिरला ने युवाओं से कहा, लिवर और पित्त की बीमारियों के सस्ते इलाज की तकनीक विकसित करें

बिरला ने युवाओं से कहा, लिवर और पित्त की बीमारियों के सस्ते इलाज की तकनीक विकसित करें

बिरला ने युवाओं से कहा, लिवर और पित्त की बीमारियों के सस्ते इलाज की तकनीक विकसित करें

नई दिल्ली: लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने युवाओं से लिवर और पित्त से जुड़ी बीमारियों और उनसे संबंधित समस्याओं पर शोध करने और कम खर्च पर इलाज की तकनीक विकसित करने को कहा है. इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बायिलरी साइंसेज (आईएलबीएस) के 8वें दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि आज के युग में आधुनिक तकनीक के उपयोग से जांच और उपचार अधिक सुगम हुए हैं और आम लोगों को टेली-मेडिसिन की सुविधा का लाभ मिलने से देश के गांव-कस्बों के निवासी भी उच्च गुणवत्ता का चिकित्सा परामर्श ले पा रहे हैं.

लोकसभा सचिवालय द्वारा जारी बयान के अनुसार, बिरला ने युवाओं का आह्वान किया कि वे लिवर और पित्त की बीमारियों और उनसे जुड़ी आम समस्याओं पर सार्थक शोध करें और कम खर्च पर उन बीमारियों के इलाज की तकनीक विकसित करें.

उन्होंने उम्मीद जतायी कि देश, समाज और मानवता के क्षेत्र में सभी युवा अपना योगदान देंगे तथा भारत को विकसित और निरोगी राष्ट्र बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे. बिरला ने अंगदान के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि आईएलबीएस ने इस विषय पर जागरूकता बढ़ाई है और इस विचार को जन-जन तक ले जाने का महत्वपूर्ण काम किया है.(भाषा) 

और पढ़ें