डूंगरपुर Dungarpur News: दो मासूम बच्चों के साथ मां ने लगाईं फांसी, जेठानी घर गई तो मिली जानकारी; पति गया था मजदूरी करने

Dungarpur News: दो मासूम बच्चों के साथ मां ने लगाईं फांसी, जेठानी घर गई तो मिली जानकारी; पति गया था मजदूरी करने

Dungarpur News: दो मासूम बच्चों के साथ मां ने लगाईं फांसी, जेठानी घर गई तो मिली जानकारी; पति गया था मजदूरी करने

डूंगरपुर: जिले के सदर थाना क्षेत्र के छैला खेरवाड़ा गांव में एक महिला ने अपने 2 मासूम बच्चों के साथ घर में फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली. पीहर के लोगों के नहीं आने से खबर लिखे जाने तक तीनों के शव फंदे पर लटके रहे. महिला समेत तीनों के आत्महत्या के कारणों का पता नहीं लग सका है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है. 

डूंगरपुर उपाधीक्षक राकेश शर्मा ने बताया कि देवीलाल कटारा मीणा निवासी छैला खेरवाड़ा उदयपुर में मजदूरी का काम करता है. 10 दिन पहले ही वह मजदूरी करने चला गया. घर पर उसकी पत्नी सुमित्रा कटारा (25) ओर दो बेटे नरेश (5), दीपक (4) अकेले थे. आज गुरुवार को सुमित्रा और उसके दोनों बच्चे देर तक नही उठे, जिस पर पास ही दूसरे घर में रहने वाली जेठानी कोकिला पत्नी अमृतलाल घर देखने आई. लेकिन घर का दरवाजा बंद था. उसने काफी देर तक दरवाजा खटखटाया, फिर भी नहीं खुलने पर जाली से देखा. घर के अंदर ही सुमित्रा, उसके बेटे नरेश और दीपक तीनों ही अलग-अलग फंदे से लटके हुए थे. जिससे उनकी मौत हो गई थी. 

घटना के बाद पूरे गांव में सनसनी फ़ैल गई:
घटना के बाद पूरे गांव में सनसनी फ़ैल गई और आसपास के गांव के लोग इकट्ठे हो गए. वहीं घटना की सूचना पर उदयपुर में मजदूरी के लिए गया पति देवीलाल भी अपने घर आ गया. वहीं सदर थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई है. घटना को लेकर पीहर पक्ष को भी सूचना दे दी गई है, लेकिन सुमित्रा के पीहर पक्ष के नहीं आने की वजह से अब तक तीनों के शव को फंदे से नीचे नही उतारा गया है. पुलिस भी पीहर पक्ष के आने के इंतजार में बैठा है. वहीं महिला और उसके दोनों मासूम बच्चों के एक साथ फांसी लगाने को लेकर अब तक कारणों का पता नही चल सका है. फिलहाल पुलिस पूरे घटनाक्रम को लेकर जांच में जुट गई है.

और पढ़ें