न्यूयॉक भारत ने संरा, डब्ल्यूटीओ और जी-20 समेत अन्य मंचों पर इब्सा देशों में सहयोग पर की चर्चा

भारत ने संरा, डब्ल्यूटीओ और जी-20 समेत अन्य मंचों पर इब्सा देशों में सहयोग पर की चर्चा

भारत ने संरा, डब्ल्यूटीओ और जी-20 समेत अन्य मंचों पर इब्सा देशों में सहयोग पर की चर्चा

न्यूयॉक: भारत ने अंतरराष्ट्रीय एजेंडा में शामिल प्रमुख मुद्दों पर संयुक्त राष्ट्र (संरा), विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) और जी-20 समेत विभिन्न बहुपक्षीय मंचों पर इब्सा (भारत, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका) देशों के बीच सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की है.

आईबीएसए एक त्रिपक्षीय संगठन है जिसमें भारत, ब्राजील और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं और इसका मकसद विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा देना है. भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने बुधवार को इब्सा की 10वीं त्रिपक्षीय मंत्रिस्तरीय बैठक की मेजबानी की जिसमें ब्राजील के विदेश मंत्री कार्लोस अल्बर्टो फ्रेंको फ्रैंका और दक्षिण अफ्रीका गणराज्य के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. जो फाहला ने भाग लिया.

अधिक मजबूत करने की अपनी मंशा दोहराई:
बैठक के बाद जारी संयुक्त बयान में कहा गया है अंतरराष्ट्रीय एजेंडा में शामिल बड़े मुद्दों को लेकर संरा, डब्ल्यूटीओ, डब्ल्यूआईपीओ, जी-20 समेत विभिन्न बहुपक्षीय मंचों पर इब्सा देशों के बीच सहयोग और समन्वय पर मंत्रियों ने संतुष्टि जताई. उन्होंने विभिन्न अंतरराष्ट्रीय संगठनों और समूहों में सदस्य देशों के बीच सहयोग को और अधिक मजबूत करने की अपनी मंशा दोहराई.

अधिक प्रभावी और जवाबदेह बनाया जा सके:
बयान में कहा गया है कि मंत्रियों ने नियम आधारित, पारदर्शी, भेदभाव-रहित, मुक्त और समावेशी बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली (एमटीएस) को केंद्र में रखने की पुन:पुष्टि की, जैसा कि डब्ल्यूटीओ में उल्लिखित है. बयान में कहा गया है कि मंत्री इस बात पर सहमत हुए कि बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली में सुधार करके इसे मजबूत बनाने के लिए सभी प्रयास किये जाएंगे, ताकि डब्ल्यूटीओ को इसके विकासशील सदस्य देशों की जरूरतों के प्रति अधिक प्रभावी और जवाबदेह बनाया जा सके.

व्यापार के विकास में अपनी हिस्सेदारी सुनश्चित करें:
सदस्यों ने सकारात्मक प्रयास जारी रखने की आवश्यकता को रेखांकित किया ताकि अल्प-विकसित देशों के अलावा विकासशील देश अपने आर्थिक विकास की जरूरतों के अनुरूप विश्व व्यापार के विकास में अपनी हिस्सेदारी सुनश्चित करें. मौजूदा अध्यक्ष के रूप में भारत इब्सा के छठे शिखर सम्मेलन की मेजबानी जी-20 शिखर सम्मेलन के इतर नवंबर 2022 में करेगा. गौरतलब है कि भारत 2023 में जी-20 शिखर सम्मेलन की मेजबानी करेगा, जबकि 2024 में इसकी मेजबानी ब्राजील के जिम्मे है. सोर्स-भाषा 

और पढ़ें