IND vs BAN: स्पिनर कुलदीप यादव के करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, भारत ने पहला टेस्ट 188 रन से जीता

चटगांव: बाएं हाथ के कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया जिसके दम पर भारत ने बांग्लादेश को दूसरी पारी में जल्दी समेटकर पहले टेस्ट क्रिकेट मैच के पांचवें दिन रविवार को यहां 188 रन से बड़ी जीत दर्ज की.

भारत को पांचवें और अंतिम दिन जीत के लिए केवल चार विकेट लेने की जरूरत थी और उसने 11.2 ओवर में ही बाकी बचे विकेट हासिल कर दिए. बांग्लादेश की टीम ने सुबह छह विकेट पर 272 रन से आगे खेलना शुरू किया और उसकी पूरी टीम 324 रन पर आउट हो गई. कुलदीप ने बाकी बचे चार विकेटों में से दो विकेट हासिल किए जबकि मोहम्मद सिराज और अक्षर पटेल ने एक-एक विकेट लिया.

किसी एक टेस्ट मैच में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है:
कुलदीप ने पहली पारी में पांच विकेट हासिल किए थे जबकि दूसरी पारी में उन्होंने तीन विकेट लिए. इस तरह से उन्होंने मैच में 113 रन देकर आठ विकेट अपने नाम दर्ज किए जो कि उनका किसी एक टेस्ट मैच में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है. कुलदीप ने भारत की जीत के बाद कहा कि मुझे कूकाबुरा गेंद से गेंदबाजी करना पसंद है क्योंकि इससे मैं एसजी गेंद की तुलना में बेहतर ग्रिप और नियंत्रण बनाता हूं. उन्होंने कहा कि जब मैं क्रिकेट नहीं खेल रहा होता हूं तो यह काफी चुनौतीपूर्ण होता है लेकिन इस बीच मैंने सीमित ओवरों के कई मैच खेले. मैं आईपीएल में खेला और भारत ए की तरफ से मैंने लाल गेंद से गेंदबाजी की. इस तरह से मैं लय में था.

दूसरी पारी में 77 रन देकर चार विकेट लिए:
कुलदीप को बाएं हाथ के स्पिनर पटेल का अच्छा साथ मिला जिन्होंने दूसरी पारी में 77 रन देकर चार विकेट लिए. इस जीत से भारत विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की अंक तालिका में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है. उसने श्रीलंका को पीछे छोड़ा जो अब चौथे स्थान पर खिसक गया है. भारत के अब 87 अंक हो गए हैं और उसका प्रतिशत (पीसीटी) 55.77 है जबकि श्रीलंका के 64 अंक हैं और उसका पीसीटी 53.33 है. ऑस्ट्रेलिया 75 पीसीटी के साथ तालिका में शीर्ष पर है. उसके बाद दक्षिण अफ्रीका का नंबर आता है जिसका पीसीटी 60 है.

तेज और स्पिन आक्रमण के साथ शुरुआत की:
बांग्लादेश ने अपने कल के स्कोर छह विकेट पर 272 रन से अपनी पारी आगे बढ़ाई. कप्तान शाकिब अल हसन ने शुरू से ही आक्रामक रवैया अपनाया क्योंकि वह जानते थे कि पूरे दिन बल्लेबाजी करना मुश्किल है. उन्होंने 108 गेंदों का सामना करके 84 रन बनाए जिसमें छह चौके और इतने ही छक्के भी शामिल हैं. कप्तान के रूप में पहला टेस्ट मैच जीतने वाले केएल राहुल ने सिराज (67 रन देकर एक विकेट) और पटेल के रूप में तेज और स्पिन आक्रमण के साथ शुरुआत की.

राहुल ने ऐसे समय में कुलदीप को गेंद थमाई:
मेहदी हसन मिराज (13) ने दिन के पहले ओवर में ही सिराज पर कवर क्षेत्र में चौका लगाया जबकि दूसरी तरफ शाकिब ने अपने पटेल पर चौका लगाकर इरादे जतला दिए थे. हालांकि सिराज के अगले ओवर में मेहदी हसन ढीला शॉट खेलकर उमेश यादव को कैच दे बैठे. शाकिब ने पटेल पर सीधा छक्का जड़कर टेस्ट क्रिकेट में अपना 30वां अर्धशतक पूरा किया. शाकिब ने इसके बाद भी कुछ अच्छे शॉट खेले लेकिन राहुल ने ऐसे समय में कुलदीप को गेंद थमाई जिन्होंने लगातार ओवरों में विकेट लिए जबकि एक अन्य विकेट पटेल ने हासिल किया.

टेस्ट मैच 22 दिसंबर से मीरपुर में खेला जाएगा:
कुलदीप ने पहले शाकिब को क्लीन बोल्ड किया जो कि एक्स्ट्रा कवर पर स्वीप करने के प्रयास में चूक गए थे. कुलदीप ने इसके बाद इबादत हुसैन को श्रेयस अय्यर के हाथों कैच कराया. पटेल ने ताइजुल इस्लाम को आउट करके जीत की औपचारिकताएं पूरी की. भारत ने अपनी पहली पारी में 404 रन बनाने के बाद बांग्लादेश को 150 रन पर आउट कर दिया था. भारत ने शुभमन गिल (110) और चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 102) के शतकों की मदद से अपनी दूसरी पारी दो विकेट पर 258 रन बनाकर समाप्त घोषित की थी. दोनों टीम के बीच दूसरा और अंतिम टेस्ट मैच 22 दिसंबर से मीरपुर में खेला जाएगा. सोर्स-भाषा