असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, मुसलमान होने के कारण मोहम्मद शमी को बनाया जा रहा है निशाना

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, मुसलमान होने के कारण मोहम्मद शमी को बनाया जा रहा है निशाना

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, मुसलमान होने के कारण मोहम्मद शमी को बनाया जा रहा है निशाना

हैदराबाद: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का बचाव करते हुए सोमवार को कहा कि टी20 विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ मिली हार के बाद शमी की हो रही आलोचना से पता चलता है कि देश में मुसलमानों के खिलाफ कट्टरता और नफरत कितनी बढ़ गयी है. ओवैसी ने यहां संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि भारत को कभी भी पाकिस्तान के साथ मैच नहीं खेलना चाहिए था जब कश्मीर में भारतीय सैनिक मर रहे हैं.

हैदराबाद से सांसद ने कहा कि व्यक्तिगत तौर पर मेरा मानना है, यह मैच पाकिस्तान के साथ नहीं खेला जाना चाहिए था. कल भारतीय टीम की हार के लिए मोहम्मद शमी को निशाना बनाया जा रहा है. यह इंगित करता है कि मुसलमानों के खिलाफ कट्टरता और नफरत बढ़ रही है. एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि एक क्रिकेट टीम में कुल 11 खिलाड़ी होते हैं, लेकिन केवल टीम के एक मुस्लिम खिलाड़ी को निशाना बनाया जा रहा है. क्या भारतीय जनता पार्टी इसकी निंदा करेगी? यह बेहद शर्मनाक और खेदजनक है, क्योंकि वह भारत के लिए खेल रहे थे.

शमी हाल के समय में भारत के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से एक रहे हैं और पिछले पांच साल में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है. सोशल मीडिया पर ट्रोल करने वालों ने रविवार रात के उनके प्रदर्शन को उनके धर्म से जोड़ा जो लोगों को अच्छा नहीं लगा. पाकिस्तान ने भारत को दुबई में खेले गए टी20 विश्व कप के एक मुकाबले में रविवार को 10 विकेट से हरा दिया था. सोर्स- भाषा
 

और पढ़ें