मेलबर्न रिकी पोंटिंग बोले, उम्रदराज खिलाड़ियों के लिए अच्छा प्रारूप है टी20

रिकी पोंटिंग बोले, उम्रदराज खिलाड़ियों के लिए अच्छा प्रारूप है टी20

रिकी पोंटिंग बोले, उम्रदराज खिलाड़ियों के लिए अच्छा प्रारूप है टी20

मेलबर्न: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि टी20 क्रिकेट उम्रदराज खिलाड़ियों के लिए अच्छा प्रारूप है तथा विराट कोहली जैसे अनुभवी खिलाड़ी मुश्किल दौर से उबरने का रास्ता ढूंढ लेते हैं. पोंटिंग ने कहा कि कोहली तीनों प्रारूपों के चैंपियन खिलाड़ी हैं और भारत को मुश्किल दौर में भी उन पर विश्वास बनाए रखने का फायदा मिला.

कोहली ने सितंबर में एशिया कप में अफगानिस्तान के खिलाफ 61 गेंदों पर नाबाद 122 रन बनाकर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शतक का 1021 दिन का इंतजार खत्म किया था. वर्तमान टी20 विश्व कप में भी उनकी शानदार फॉर्म जारी है. आईसीसी की वेबसाइट के अनुसार पोंटिंग ने कहा कि भारत अब उन पर भरोसा दिखाने का फायदा उठा रहा है और अगर वह अगले दौर में पहुंचता है तो मुझे पूरा विश्वास है कि वह (कोहली) सेमीफाइनल या फाइनल में बड़ी पारी खेलेगा.

कोहली शनिवार को 34 साल के हो गए हैं. उन्होंने टी20 विश्व कप में अभी तक सर्वाधिक 220 रन बनाए हैं तथा चार पारियों में केवल एक बार आउट हुए हैं. पोंटिंग ने कहा कि इतने वर्षों में मैंने टी20 क्रिकेट को जितना समझा है उससे मुझे लगता है यह उम्रदराज खिलाड़ियों का खेल है या यूं कहें युवाओं की बजाय यह उम्रदराज खिलाड़ियों के अधिक अनुकूल है.

पोंटिंग को पूरा विश्वास था खराब फॉर्म में चल रहे कोहली जल्द वापसी करेंगे और तब उन्होंने भारतीय चयनकर्ताओं से उन्हें टीम में बनाए रखने की अपील की थी. उन्होंने कहा कि वह लंबे समय से तीनों प्रारूपों का चैंपियन खिलाड़ी रहा है. इस खेल में मैंने चैंपियन खिलाड़ियों के खेल को जितना समझा है, उसके हिसाब से आप उन्हें चुका हुआ नहीं मान सकते. वे कोई न कोई रास्ता ढूंढ़ लेते हैं विशेषकर तब जब ऐसा बेहद जरूरी हो.(भाषा) 

और पढ़ें