T20 World Cup: फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों आठ विकेट से हार के बाद Kane Williamson ने टीम के लिए कह दी बड़ी बात

T20 World Cup: फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों आठ विकेट से हार के बाद Kane Williamson ने टीम के लिए कह दी बड़ी बात

T20 World Cup: फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों आठ विकेट से हार के बाद Kane Williamson ने टीम के लिए कह दी बड़ी बात

दुबई: ऑस्ट्रेलिया के हाथों टी20 विश्व कप फाइनल में आठ विकेट से हार के बाद न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने स्वीकार किया कि ऑस्ट्रेलियाई टीम उनसे बेहतर थी जिसने उन्हें मैच में वापसी का कोई मौका नहीं दिया.

विलियमसन के 48 गेंद में 85 रन की मदद से न्यूजीलैंड ने चार विकेट पर 172 रन बनाये लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने मिशेल मार्श और डेविड वॉर्नर के अर्धशतकों की मदद से लक्ष्य सात गेंद बाकी रहते हासिल कर लिया. दो साल पहले वनडे विश्व कप फाइनल में इंग्लैंड से हारी कीवी टीम के कप्तान ने कहा कि हमें लगा कि यह स्कोर अच्छा है लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने बखूबी उसका पीछा किया. वह शानदार टीम है और पूरे टूर्नामेंट में उसने यादगार प्रदर्शन किया.

यह पूछने पर कि क्या यह स्कोर पर्याप्त था, उन्होंने कहा कि कह नहीं सकते. हमें ऐसा ही लगा था. हम ज्यादा पीछे नहीं थे लेकिन ऑस्ट्रेलिया ने हमें कोई मौका नहीं दिया. इसके बावजूद मुझे टीम के प्रदर्शन पर गर्व है. ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच ने कहा कि पहली बार टी20 विश्व कप जीतने पर गर्व है. पूरे टूर्नामेंट में टीम ने शानदार प्रदर्शन किया. लोगों ने हमारा बोरिया बिस्तर बांध दिया था लेकिन हमने हार नहीं मानी और शानदार वापसी की.

उन्होंने कहा कि मेरी नजर में तो एडम जाम्पा टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहे. उन्होंने शानदार गेंदबाजी करके बड़े विकेट लिये. मिशेल मार्श ने पहली गेंद से ही दबाव बना दिया. मैथ्यू वेड ने सेमीफाइनल में मार्कस स्टोइनिस के साथ मिलकर कमाल किया.

मार्श ने कहा कि वह फाइनल में टीम की जीत में योगदान देना चाहते थे:
‘प्लेयर आफ द मैच’ चुने गए मिशेल मार्श ने कहा कि वह फाइनल में टीम की जीत में योगदान देना चाहते थे और उन्हें खुशी है कि वह ऐसा कर सके. उन्होंने कहा कि मैं चाहता था कि इस मैच में अपनी मौजूदगी दर्ज कराऊं और ऐसा ही हुआ. मैंने अपना स्वाभाविक खेल दिखाया और अब मेरे पास अपनी खुशी का इजहार करने के लिये शब्द नहीं है. ये छह सप्ताह यादगार रहे.

मैं कोचिंग स्टाफ का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया:
उन्होंने कहा कि वेस्टइंडीज में कोचिंग स्टाफ ने मुझसे कहा कि मैं टी20 विश्व कप में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करूंगा और मैंने सहर्ष इसे स्वीकार किया. मैं कोचिंग स्टाफ का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने मुझ पर भरोसा किया. चंद हफ्ते पहले आईपीएल टीम में अंतिम एकादश से बाहर किये जाने के बाद शानदार वापसी करके टी20 विश्व कप के ‘प्लेयर आफ द टूर्नामेंट’ रहे डेविड वॉर्नर ने कहा कि उन्होंने बस अपने ‘बेसिक्स’ मजबूत रखे.

मुझे हमेशा से खुद पर भरोसा था:
उन्होंने कहा कि मुझे हमेशा से खुद पर भरोसा था और मैने बेसिक्स मजबूत रखने के साथ कड़ी विकेटों पर बल्लेबाजी का खूब अभ्यास किया. यह शानदार टीम है, बेहतरीन सहयोगी स्टाफ है और दुनिया भर में लाजवाब समर्थक भी हैं. हम हमेशा उनके लिये बेहतरीन खेलना चाहते हैं और हमें खुशी है कि आज ऐसा कर सके. सोर्स- भाषा 

और पढ़ें