नई दिल्ली ShareMarket: सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से सात कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1.07 लाख करोड़ रुपये बढ़ा

ShareMarket: सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से सात कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1.07 लाख करोड़ रुपये बढ़ा

ShareMarket: सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से सात कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1.07 लाख करोड़ रुपये बढ़ा

नई दिल्ली: सेंसेक्स की शीर्ष 10 में से सात कंपनियों का बाजार पूंजीकरण (मार्केट कैप) बीते सप्ताह सामूहिक रूप से 1,07,224.82 करोड़ रुपये बढ़ गया. सबसे अधिक लाभ में सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र की कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इन्फोसिस रहीं.

भारती एयरटेल का मूल्यांकन घट गया:
बीते सप्ताह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 360.81 अंक या 0.60 प्रतिशत के लाभ में रहा. समीक्षाधीन सप्ताह में जहां टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी और जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के बाजार पूंजीकरण में बढ़ोतरी हुई, वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज, भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) और भारती एयरटेल का मूल्यांकन घट गया.

कंपनी का मुनाफा 13.4 प्रतिशत बढ़ा:
टीसीएस का बाजार पूंजीकरण 59,349.81 करोड़ रुपये बढ़कर 12,34,637.11 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. इन्फोसिस का बाजार मूल्यांकन 22,997.16 करोड़ रुपये के उछाल के साथ 6,32,684.95 करोड़ रुपये पर पहुंच गया. इन्फोसिस का दिसंबर तिमाही का मुनाफा उम्मीद से बेहतर रहा है. तिमाही के दौरान कंपनी का मुनाफा 13.4 प्रतिशत बढ़ा है.

इस बीच, हिंदुस्तान यूनिलीवर की बाजार हैसियत 10,514.42 करोड़ रुपये बढ़कर 6,16,004.09 करोड़ रुपये पर पहुंच गई. एचडीएफसी का मूल्यांकन 4,904.87 करोड़ रुपये की बढ़ोतरी के साथ 4,78,922.89 करोड़ रुपये रहा. एलआईसी का बाजार पूंजीकरण 3,668.5 करोड़ रुपये की वृद्धि के साथ 4,50,782.59 करोड़ रुपये पर पहुंच गया.
एचडीएफसी बैंक की बाजार हैसियत 3,624.89 करोड़ रुपये बढ़कर 8,92,754.89 करोड़ रुपये रही, जबकि आईसीआईसीआई बैंक का मूल्यांकन 2,165.17 करोड़ रुपये बढ़कर 6,09,305.82 करोड़ रुपये पर पहुंच गया.

एलआईसी और भारती एयरटेल का स्थान रह: 
इस रुख के उलट रिलायंस इंडस्ट्रीज का बाजार पूंजीकरण 47,290.7 करोड़ रुपये की गिरावट के साथ 16,69,280.55 करोड़ रुपये पर आ गया. भारती एयरटेल की बाजार हैसियत 17,373.86 करोड़ रुपये की गिरावट के साथ 4,25,982.59 करोड़ रुपये पर आ गई. एसबीआई का मूल्यांकन 490.85 करोड़ रुपये घटकर 5,35,521.33 करोड़ रुपये रह गया.
शीर्ष 10 कंपनियों की सूची में रिलायंस इंडस्ट्रीज पहले स्थान पर कायम रही. उसके बाद क्रमश: टीसीएस, एचडीएफसी बैंक, इन्फोसिस, हिंदुस्तान यूनिलीवर, आईसीआईसीआई बैंक, एसबीआई, एचडीएफसी, एलआईसी और भारती एयरटेल का स्थान रहा. सोर्स-भाषा

और पढ़ें