नई दिल्ली ब्लॉकटॉन ब्लॉकचेन एक फास्ट, हाय थ्रूपूट ओपन सोर्स है जो ओपन सोर्स की विस्तार योग्य, तेज़ और सुरक्षित प्रणाली है

ब्लॉकटॉन ब्लॉकचेन एक फास्ट, हाय थ्रूपूट ओपन सोर्स है जो ओपन सोर्स की विस्तार योग्य, तेज़ और सुरक्षित प्रणाली है

ब्लॉकटॉन ब्लॉकचेन एक फास्ट, हाय थ्रूपूट ओपन सोर्स है जो ओपन सोर्स की विस्तार योग्य, तेज़ और सुरक्षित प्रणाली है

नई दिल्ली: इतिहास के सभी तकनिकी ब्रेकथ्रूज समस्याओं के आने के कारण ही हुए थे. ऐसी कई खोजों में यह निष्कर्ष निकलता है तथा इतिहास में ऐसी स्थिति में स्मार्ट बोर्डस, हवाई जहाज और कार्स जैसे यंत्र बने थे. ये यंत महत्त्वपूर्ण सामाजिक मुद्दों के उद्देश्य से बनाए गए थे. औद्योगिक क्रान्ति के बाद यह ट्रेंड बदला नही है, बल्की इसमें अब अविरत वृद्धि ही दिखाई देती है.

आर्थिक क्षेत्र समाज का अहम हिस्सा है और उसमें कई बदलाव आए हैं. ब्लॉकचेन तकनिक विश्व की आर्थिक प्रणाली और संरचनाओं के गठन को बदल रही है. क्रिप्टोकरन्सीज को मुख्य धारा में स्वीकृति मिलना तेज़ी‌से बढ़ रहा है. अब हमारे पास क्रिप्टो समर्थित ऑनलाईन पेमेंट गेटवेज हैं तथा क्रिप्टो ऑटोमेटेड टेलर मशीन्स (एटीएम) हैं. क्रिप्टोकर्न्सीज को वैश्विक मानक के तौर पर स्वीकृति मिलने तक आर्थिक जगत् में ये उथल पुथल जारी रहेगी.

टोकन्स को ये लाभ होने के बावजूद उन्हे ट्रेडिंग और स्वैपिंग को सुविधा देनेवाले प्लॅटफॉर्म्स की आवश्यकता होती है. डेप्स, डेक्सज और स्मार्ट काँट्रॅक्टस हर ट्रान्जॅक्शन के लिए सुरक्षितता की पुष्टि देने हेतु बनाए गए थे. केन्द्रीय प्रशासन से अलग अपने में निर्भर होनेवाली और युजर्स के द्वारा मालकीयत की जानेवाली और नियंत्रित प्रणाली की निर्मिति यह उसका उद्देश्य था. क्रिप्टोकरन्सीज की मूल कल्पना के पीचे जो सोच थी, उससे यह मिलता है और इससे एक अधिक सुरक्षित और सेक्युअर जरिया मिलता है जिससे सभी संसाधन युजर्स के नियंत्रण में रहने की पुष्टि होती है.

लेकीन अलग अलग ब्लॉकचेन्स में आपस में सम्पर्क की क्षमताएँ न होने के कारण इस संकल्पना में बाधा होती है. टोकन्स के ट्रेड के लिए युजर्स कई डीईएक्सेस या डेप्स का इस्तेमाल करते है और इससे इसमें बड़ा अवरोध आता है. ब्लॉकचेन ऐसी एकात्मिक प्रणाली बना रहा है जो निर्बन्धित/ नेटीव ब्लॉकचेन की सीमाएँ पार कर सकता है. इससे युजर्स को अलग शृंखलाओं में एक्सेस मिलेगा और क्रिप्टो की प्रणाली में टोकन्स की बड़ी श्रेणि पर उन्हे वास्तविक नियंत्रण प्राप्त होगा. युजर्स को उनके क्रिप्टो असेटस पर अधिक नियंत्रण देने के लिए और अधिक सुरक्षा देने के लिए इस प्लॅटफॉर्म का गठन किया गया है. मायक्रो डीईएक्सेस या डेप्स को ले कर कम घोटाले होंगे. ब्लॉकटॉन प्लॅटफॉर्म युजर्स को चेन्स से सुसंगत कई ईवीएम में ट्रेड, स्वॅप या कन्वर्ट करने का अवसर देगा. समर्थित चेन्स में इथरॉईम, बिनान्स स्मार्ट चेन और पॉलीगॉन तथा फॅनटम, आर्बिट्रम और ओकेईक्स चेन हैं.

ब्लॉकटॉन एक ईवीएम ब्लॉकचेन प्लॅटफॉर्म लेयर-7 हैं जो डेफी, गेमफी और मेटावर्स पर केन्द्रित है. यह एक पीओडब्ल्यू ब्लॉकचेन है जिसमें लिक्विडिटी मायनिंग और स्टेकिंग है. इसलिए यह पीओडब्ल्यु इथेरॉईम के लिए बेहतर बिकल्प हो जाता है. ब्लॉकटॉन एक वृद्धि योग्य, शाश्वत और उच्च प्रदर्शन का ब्लॉकचेन प्लॅटफॉर्म है. यह आम तौर पर ईवीएम से पूरी तरह सुसंगत है जिससे डेवलपर्स वृद्धि योग्य युजर फ्रेंडली डी एप्स लगभग किसी भी खर्चे के बिना बना सकते हैं. ब्लॉकटॉन रीअल डिसेंट्रलायजेशन की पुष्टि के लिए प्रूफ ऑफ वर्क (पीओडब्ल्यू) का इस्तेमाल करता है.

ब्लॉकटॉन के उच्च प्रदर्शन से वर्तमान में प्रति ब्लॉक 300,000+ से अधिक ट्रान्जॅक्शन्स किए जा सकते हैं और साथ में सुरक्षा भी रखी जाती है. नेटवर्क लोड और युसेज पर आधारित यह प्लॅटफॉर्म ट्रान्जॅक्शन का साईज और ब्लॉक का साईज भी एडजस्ट कर सकता है| ब्लॉक टाईम वर्तमान में 3.1 सेकेंडस है. शून्य फीस का ब्लॉकटॉन इसलिए बनाया गया था जिससे ट्रान्झॅक्शन की फीस लगभग हमेशा शून्य ही रहे. युजर्स को बढ़नेवाले गॅस के दर की चिन्ता करने की ज़रूरत नही है. ब्लॉकटॉन हर दिन सरलता से इस्तेमाल किया जाता है.

अधिक जानकारी हेतु
अधिकृत वेबसाईट – www.blocktoncoin.com 
अधिकृत  एक्सप्लोर – www.blocktonscan.com

और पढ़ें