सागरदिघी उपचुनाव:कांग्रेस-माकपा और भाजपा के बीच अनैतिक गठबंधन था- CM ममता

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को सागरदिघी विधानसभा सीट के उपचुनाव में कांग्रेस की जीत को ‘‘अनैतिक’’ बताते हुए आरोप लगाया कि मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के अलावा कांग्रेस ने तृणमूल कांग्रेस को हराने के लिए भाजपा के साथ समझौता किया था.

बनर्जी ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनकी पार्टी 2024 का लोकसभा चुनाव आम लोगों के समर्थन से अकेले लड़ेगी. उन्होंने कहा कि सागरदिघी सीट पर हार के लिए मैं किसी को दोष नहीं देती. कभी-कभी, लोकतंत्र में, घटनाक्रम आमतौर पर सकारात्मक या नकारात्मक हो सकते हैं. लेकिन यह एक अनैतिक गठबंधन था, जिसकी हम कड़ी निंदा करते हैं. भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने वोट कांग्रेस को स्थानांतरित किए.

कांग्रेस और माकपा बड़े खिलाड़ी निकले:
उन्होंने कहा कि (सागरदिघी में) सभी ने सांप्रदायिक कार्ड खेला. भाजपा ने सांप्रदायिक कार्ड खेला. हालांकि इस संबंध में कांग्रेस और माकपा बड़े खिलाड़ी निकले. तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ने दावा किया कि कांग्रेस को भगवा खेमे की मदद मांगने के बाद खुद को भाजपा विरोधी कहने से बचना चाहिए. उन्होंने कहा कि टीएमसी 2024 के चुनाव में अकेले उतरेगी. हम लोगों के समर्थन से लड़ेंगे. मुझे विश्वास है कि जो लोग भाजपा को हराना चाहते हैं वे निश्चित रूप से टीएमसी को वोट देंगे. सोर्स-भाषा