Rajasthan BJP Candidates List: भाजपा कोर ग्रुप बैठकों की इनसाइड स्टोरी, क्या अब भाजपा ने राजस्थान में बदली अपनी रणनीति !

नई दिल्ली: राजस्थान में भाजपा-कांग्रेस प्रत्याशी सूची का काउंटडाउन चल रहा है. इसी बीच भाजपा कोर ग्रुप बैठकों की इनसाइड स्टोरी भी सामने आई है! ऐसे में यह सवाल खड़ा हो रहा है कि क्या अब भाजपा ने राजस्थान में अपनी रणनीति बदली है. सूत्रों के अनुसार संघ की इंटरनल रिपोर्ट में नेगेटिव फीडबैक आया था और साथ ही 41 प्रत्याशियों की लिस्ट के बाद रणनीति बदली. 

दरअसल, आलाकमान ने बैठक में निर्देश दिए कि जरूरत पड़ने पर ही टिकट काटे जाएं. इसके साथ ही पब्लिक ओपिनियन बहुत नेगेटिव हो तभी टिकट काटे जाएं. इसी के चलते सिर्फ 9 मौजूदा विधायकों के टिकट को होल्ड किया गया. बाकी सभी मौजूदा विधायकों के टिकट को रिपीट किया जा रहा है. कल प्रहलाद जोशी के आवास पर बैठक में सभी सीटों पर मंथन हुआ और आज की कोर ग्रुप की बैठक में रिव्यू किया गया. अब इन सभी नामों की सूची शाम को CEC में रखी जाएगी. 

सूत्रों के मुताबिक राजस्थान भाजपा (rajasthan bjp) के 60 मौजूदा विधायकों की टिकट पक्की होने की भी जानकारी सामने आ रही है. हालांकि कुछ नामों पर तलवार लटकी है. इन सभी भाजपा विधायकों के टिकट को HOLD पर रखा गया है ! शाहपुरा से कैलाश मेघवाल का टिकट HOLD होने की जानकारी है. उम्र और पार्टी के खिलाफ बयानबाजी के चलते उनका टिकट होल्ड पर रखने की जानकारी है. वहीं फलौदी से पब्बाराम विश्नोई, पुष्कर से सुरेश रावत, संगरिया से गुरदीप सिंह, रानीवाड़ा से नारायण सिंह देवल, कपासन से अर्जुन जीनगर, सांगानेर से अशोक लाहोटी, सिवाना से हमीर सिंह भायल को HOLD पर रखा जाने की जानकारी है. इन सभी विधायकों के अलावा बाकी सभी MLA को टिकट दिया जा रहा है. आज शाम 6 बजे भाजपा केंद्रयी चुनाव समिति की बैठक होगी. बैठक में भाजपा की दूसरी सूची में कई सिटिंग MLAs के नाम दिखेंगे. 

बैठक के बाद पार्टी किसी भी दिन राजस्थान की दूसरी सूची जारी कर सकती:
आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में शुक्रवार को होने वाली केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में राजस्थान के साथ मध्य प्रदेश और तेलंगाना के उम्मीदवारों पर मंथन होगा. सूत्रों का कहना है कि इस बैठक के बाद पार्टी किसी भी दिन राजस्थान की दूसरी सूची जारी कर सकती है. हालांकि, पार्टी के कुछ नेताओं का कहना है कि कांग्रेस की पहली सूची के बाद भाजपा दूसरी सूची जारी कर सकती है.