जयपुर Rajasthan Politics: इशारों-इशारों में बहुत कुछ कह गए जेपी नड्डा !

Rajasthan Politics: इशारों-इशारों में बहुत कुछ कह गए जेपी नड्डा !

जयपुर: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भाजपा नेताओं को बड़ा संदेश दिया है. प्रदेश कार्यसमिति के समापन सत्र में नड्डा ने कहा कि हर किसी को एमएलए और एमपी बनने की चाहत है. मगर मेरा मानना है कि सभी को नेता बनना चाहिए. पद अपने आप मिल जाएगा. काबिलीयत होनी चाहिए वजन अपने आप आ जायेगा. नेता रातोरात नहीं बनते हैं.

उन्होंने कार्यकर्ताओं को हवा में उड़ने की बजाय धरातल पर रहकर काम करने की नसीहत भी दी. अपने 35 मिनट के भाषण में नड्डा ने राज्य की गहलोत सरकार पर भी हमला बोला और कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर चुनाव की तैयारी में जुटने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि राजस्थान में अपराध लगातार बढ़ रहे हैं, पेपर लीक हो रहे हैं, मगर सरकार में किसी की सुनवाई नहीं हो रही है. 

ऐसे में भाजपा कार्यकर्ता जनता के बीच जाए और जन विरोधी नीतियों को लेकर सरकार के खिलाफ माहौल बनाए ताकि आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी को दो तिहाई बहुमत से जीत मिले. उन्होंने प्रदेश कार्यसमिति सदस्यों को को जीत का मंत्र दिया और कहा कि जनता के बीच ज्यादा से ज्यादा जाए और खुद कम बोलें और जनता की ज्यादा सुने. उन्होंने पार्टी को केंद्र में रखकर काम करने की सभी नेताओं को सलाह दी. कार्यसमिति के मंच पर सभी बड़े नेताओं को बैठने की जगह दी गई.

अरुण सिंह ने खुद की सीट पर वसुंधरा राजे को बैठा दिया:
इस दौरान जेपी नड्डा के दोनों तरफ अरुण सिंह और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया की सीट रिजर्व थी. मगर सिंह ने खुद की सीट पर वसुंधरा राजे को बैठा दिया. इसे भी एक राजनीतिक संदेश के रूप में देखा जा रहा है. बैठक में राष्ट्रीय महामंत्री और प्रभारी अरुण सिंह, उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया, सह प्रभारी विजय राहत्कर, वरिष्ठ नेता ओम प्रकाश माथुर, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत, कैलाश चौधरी, नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ समेत कोर कमेटी सदस्य और नेता मौजूद रहे.

और पढ़ें