ISRO के रीयूजेबल लॉन्च व्हीकल की तीसरी सफल लैंडिंग, चिनूक हेलीकॉप्टर से 4.5 KM की ऊंचाई से रिलीज किया गया पुष्पक

बेंगलुरु: ISRO के रीयूजेबल लॉन्च व्हीकल की तीसरी सफल लैंडिंग की है. चिनूक हेलीकॉप्टर से 4.5 KM की ऊंचाई से पुष्पक रिलीज किया गया. फिर रनवे पर पुष्पक की ऑटोमेटिक लैंडिंग की. 

चित्रदुर्ग के एरोनॉटिकल टेस्ट रेंज में 4.5 किमी की ऊंचाई से पुष्पक छोड़ा गया. "पुष्पक" ने चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में सटीक हॉरिजोंटल लैंडिंग पूरी की. एडवांस ऑटोनॉमस कैपेबिलिटी का प्रदर्शन करते हुए सफल लैंडिंग की. 

कर्नाटक के चित्रदुर्ग में तीसरे और फाइनल टेस्ट को अंजाम दिया गया. सुबह 07:10 बजे लैंडिंग एक्सपेरिमेंट का फाइनल टेस्ट पूरा हुआ. पहला लैंडिंग एक्सपेरिमेंट 2 अप्रैल 2023 और दूसरा 22 मार्च 2024 को हुआ.