मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा- कोविड-19 से मौत को रोकने पर ध्यान केन्द्रित किया जाए

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा- कोविड-19 से मौत को रोकने पर ध्यान केन्द्रित किया जाए

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने शनिवार को अधिकारियों को कोविड-19 से मौत होने के मामलों पर लगाम लगाने पर ध्यान केन्द्रित करने और 18 से 44 साल के लोगों को टीका लगाने की प्रक्रिया तेज करने का निर्देश दिया.

 

मुख्यमंत्री ने कोविड-19 हालातों की समीक्षा कीः
रावत ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिये राज्य के कोविड-19 हालात की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को कोविड-19 रोगियों के बीच चिकित्सा सामग्री वितरित करने के लिए विकेन्द्रीकृत प्रणाली अपनाने को कहा. उन्होंने जिलाधिकारियों को शादी जैसे सामाजिक समारोह में एक स्थान पर 25 से अधिक लोगों के जमा होने पर कड़ी कार्रवाई करने के लिए कहा. मुख्यमंत्री ने महामारी के खिलाफ लड़ाई में सेवानिवृत्त सैन्य कर्मियों की मदद लेने का भी सुझाव दिया.

टीकों की पहली खेप के आते ही 18 से 44 साल के लिए टीकाकरण होगा तेजः
रावत ने अधिकारियों को 18 से 44 साल के लोगों के लिए टीकों की पहली खेप के आते ही टीकाकरण की प्रक्रिया तेज करने का भी निर्देश दिया. इस आयुवर्ग के लोगों के लिए टीकों की पहली खेप शनिवार को आने की उम्मीद है. रावत ने कहा कि टीकाकरण केन्द्रों पर कोविड-19 नियमों का पालन किया जाए और ये केन्द्र खुले स्थानों पर स्थित होने चाहिए.

दवाओं और उपकरणों की कालाबाजारी पर होगी कड़ी कार्रवाईः
मुख्यमंत्री ने कोविड-19 की रोकथाम में इस्तेमाल होने वाली दवाओं और उपकरणों की कालाबाजारी और उन्हें ऊंचे दामों पर बेचने में संलिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आदेश दिया. उन्होंने कहा कि अस्पतालों द्वारा इस्तेमाल की जा रही ऑक्सीजन का भी नियमित रूप से ऑडिट होना चाहिए. निर्माणाधीन ऑक्सीजन संयंत्रों का काम तेजी से पूरा किया जाए और उन्हें बिजली की निर्बाध आपूर्ति की जाए. स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने कहा कि राज्य में रेमडेसिविर इंजेक्शन पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध हैं. उन्होंने कहा कि फिलहाल वायरस के संक्रमण चक्र को तोड़ने पर ध्यान दिया जा रहा है. 

शुक्रवार को मिले अब तक के सर्वाधिक  9,642 कोविड के नए मामलेः
उत्तराखंड में शुक्रवार के एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक 9,642 मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 2,29,993 हो गई. इसके अलावा 137 रोगियों की मौत के बाद मृतकों की तादाद 3,430 तक पहुंच गई है.
सोर्स भाषा

और पढ़ें