T20 World Cup 2022: नहीं चला भारतीय शीर्ष क्रम, दक्षिण अफ्रीका ने रोका विजय रथ

पर्थ: तेज गेंदबाज लुंगी एनगिडी की घातक गेंदबाजी तथा एडेन मार्कराम और डेविड मिलर के अर्धशतकों की मदद से दक्षिण अफ्रीका ने रविवार को यहां टी20 विश्वकप के सुपर 12 के कम स्कोर वाले मैच में भारत को पांच विकेट से हराया. भारत की हार का कारण शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी रही जो ऑप्टस स्टेडियम की तेज और उछाल भरी पिच से सामंजस्य नहीं बिठा पाए. भारत को पांचवें तेज गेंदबाज की कमी खली क्योंकि ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने अपने चार ओवर में 43 रन दिए.

दक्षिण अफ्रीका ने 134 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए तीन विकेट 24 रन पर गंवा दिए थे लेकिन इसके बाद मार्कराम (41 गेंदों पर 52 रन, छह चौके, एक छक्का) और मिलर (46 गेंदों पर नाबाद 59 रन, तीन चौके, तीन छक्के) ने चौथे विकेट के लिए 76 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी करके अपनी टीम का स्कोर 19.4 ओवर में पांच विकेट पर 137 रन तक पहुंचाया.

भारत ने पांच विकेट 49 रन पर गंवा दिए थे, जिसके बाद सूर्यकुमार यादव ने 40 गेंदों पर 68 रन बनाए जिसमें तीन छक्के और छह चौके शामिल हैं. इसके बावजूद पहले बल्लेबाजी करने उतरा भारत नौ विकेट पर 133 रन ही बना पाया. दक्षिण अफ्रीका की तरफ से एनगिडी ने 29 रन देकर चार विकेट और वेन पर्नेल ने 15 रन देकर तीन विकेट लिये.

इस जीत से दक्षिण अफ्रीका ग्रुप दो में पांच अंक लेकर शीर्ष पर पहुंच गया है जबकि भारत दूसरे स्थान पर खिसक गया है. भारत की तरह दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों के लिए भी नई गेंद के सामने पर बल्लेबाजी करना आसान नहीं रहा. अर्शदीप सिंह (25 रन देकर दो) ने अपने पहले ओवर में ही क्विंटन डिकॉक (एक) और अच्छी फॉर्म में चल रहे हैं रिली रोसो (शून्य) को आउट करके भारत को शानदार शुरुआत दिलाई.

मोहम्मद शमी (चार ओवर में 13 रन देकर एक) ने कप्तान तेंबा बावुमा (10) को विकेट के पीछे कैच कराया और इस तरह से दक्षिण अफ्रीका पावरप्ले में तीन विकेट पर 24 रन ही बना पाया. भारतीय गेंदबाजों ने कसी हुई गेंदबाजी करके दस ओवर तक दक्षिण अफ्रीका का स्कोर 40 रन तक ही पहुंचने दिया.

मार्कराम और मिलर ने इसके बाद तेजी दिखाई. इस बीच विराट कोहली ने अश्विन की गेंद पर मार्कराम का कैच भी छोड़ा, जिसका जश्न इन दोनों ने इस ऑफ स्पिनर के अगले ओवर में छक्के जड़कर मनाया. मार्कराम ने 38 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया, लेकिन इसके तुरंत बाद हार्दिक पंड्या ने उन्हें पवेलियन की राह दिखाकर भारत की उम्मीदें जगाई. जब दक्षिण अफ्रीका को 18 गेंदों पर 25 रन की दरकार थी तब रोहित ने अश्विन को गेंद सौंपी. मिलर ने उनकी पहली दो गेंदों पर छक्के जड़कर अपनी टीम की जीत सुनिश्चित की.

इससे पहले भारत ने पावरप्ले में ही अपने दोनों सलामी बल्लेबाजों के विकेट रोहित (15) और केएल राहुल (नौ) के विकेट गंवा दिये. रोहित को कैगिसो रबाडा की गेंद पर जीवनदान भी मिला लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा पाए और जब एनगिडी पांचवा ओवर करने के लिए आए तो भारतीय कप्तान ने गेंदबाज को वापस कैच थमा दिया. राहुल की खराब फॉर्म जारी रही. एनगिडी ने अपने इसी ओवर में उन्हें स्लिप में कैच कराकर भारत को दूसरा झटका दिया. भारत ने पावरप्ले में दो विकेट पर 33 रन बनाए.

एनगिडी ने अपने दूसरे ओवर में विराट कोहली (12) के रूप में भारत को तीसरा बड़ा झटका दिया. पिछले दो मैचों में अर्धशतक जड़ने वाले कोहली ने इस ओवर की पहली दो गेंदों पर चौके लगाए लेकिन जल्द ही उन्होंने फाइन लेग पर रबाडा को कैच थमा दिया. दीपक हुड्डा को पांचवें नंबर पर उतारा गया लेकिन एनरिक नोर्किया ने उन्हें खाता भी नहीं खोलने दिया. हार्दिक पंड्या केवल दो रन बना पाए. एनगिडी की गेंद पर रबाडा ने उनका शानदार कैच लपका. अब दारोमदार सूर्यकुमार पर था जिन्होंने नोर्किया की गेंद छह रन के लिए भेज कर दबाव हटाने की कोशिश की. स्पिनर केशव महाराज पर लगाया गया उनका छक्का दर्शनीय था. सूर्यकुमार ने एनगिडी पर छक्का और फिर चौका लगाकर 30 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया.

दस ओवर के बाद भारत का स्कोर पांच विकेट पर 60 रन था और सूर्यकुमार के बल्ले से निकले रनों की बदौलत उसने 15 ओवर में अपना स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया, लेकिन शुरू से रन बनाने के लिए जूझ रहे दिनेश कार्तिक (15 गेंदों पर छह) ने इसके तुरंत बाद अपना विकेट गंवा दिया. सूर्यकुमार और कार्तिक ने 52 रन की साझेदारी की. सूर्यकुमार ने एक छोर से रन बनाने जारी रखे लेकिन दूसरे छोर से उन्हें कोई मदद नहीं मिली. रविचंद्रन अश्विन भी केवल सात रन बना पाए. पर्नेल ने अश्विन को आउट करने के बाद भारतीय पारी के इस 19वें ओवर में सूर्यकुमार का कीमती विकेट भी लिया.(भाषा)