नई दिल्ली Earthquake: नेपाल में 5.8 तीव्रता का भूकंप, उत्तर-पश्चिम भारत में झटके महसूस किए गए

Earthquake: नेपाल में 5.8 तीव्रता का भूकंप, उत्तर-पश्चिम भारत में झटके महसूस किए गए

Earthquake: नेपाल में 5.8 तीव्रता का भूकंप, उत्तर-पश्चिम भारत में झटके महसूस किए गए

नई दिल्ली: नेपाल में मंगलवार दोपहर 5.8 तीव्रता का भूकंप आया, जिसके झटके दिल्ली और जयपुर समेत भारत के उत्तर-पश्चिम क्षेत्रों में महसूस किए गए. राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने कहा कि भूकंप अपराह्न 2:28 बजे उत्तराखंड के पिथौरागढ़ से 148 किमी पूर्व में आया, जिसका केंद्र नेपाल में था. हिमालय क्षेत्र में भूकंप के तेज झटके के साथ उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान के विभिन्न क्षेत्रों में घरों में फर्नीचर, छत के पंखे और दीवार पर लगी तस्वीरों के हिलने की सूचना मिली.

एक वरिष्ठ भूकंप विज्ञानी ने कहा कि भूकंप का केंद्र 2,400 किमी लंबे हिमालयी टक्कर क्षेत्र में स्थित था जो हिंदुकुश पर्वत श्रृंखला से लेकर म्यांमा तक फैला हुआ है. हिमालयी टक्कर क्षेत्र भूकंप के दृष्टिकोण से सक्रिय क्षेत्र है. मंगलवार को 5.8 तीव्रता का भूकंप अपराह्न 3 बजे तक, पिछले 24 घंटे में 2,400 किलोमीटर क्षेत्र में चौथा भूकंप था. असम के कछार क्षेत्र में सोमवार को शाम 7:12 बजे 4.8 तीव्रता का भूकंप आया था. वहीं, भूटान में मंगलवार को 3.2 और 2.8 तीव्रता के दो झटके पूर्वाह्न 10:55 बजे और दोपहर 12:53 बजे दर्ज किए गए. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए गए. आशा करता हूं कि आप सभी सुरक्षित होंगे.’’

नोएडा में एक ऊंची इमारत में रहने वाले शांतनु ने कहा, ‘‘भूकंप के झटकों से दहशत फैल गई.’’ दिल्ली निवासी अमित पांडे ने कहा, ‘‘मैं सिविक सेंटर के एक ब्लॉक की पांचवीं मंजिल पर था. मैंने झटके महसूस किए. दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के मुख्यालय सिविक सेंटर में कई लोगों ने भूकंप के झटके महसूस किए. उस दौरान सदन की बैठक हो रही थी. राजस्थान की राजधानी जयपुर के कुछ हिस्सों में भी झटके महसूस किए गए. देहरादून, उत्तरकाशी, पिथौरागढ़ समेत उत्तराखंड के कई हिस्सों में भूकंप के झटके महसूस किए गए और लोग दहशत में अपने घरों तथा कार्यालय से बाहर निकले. अधिकारियों ने बताया कि जान-माल के नुकसान की कोई सूचना नहीं मिली है. सोर्स- भाषा

और पढ़ें