2019/12/30 13:12
डेगाना के चारणवास गांव में 70 वर्ष की आयु में जब बेटे की शादी के 12 साल बाद भी संतान की प्राप्ति नहीं हुई तो चारणवास गांव के बुजुर्ग सवाईदान चारण ने बुढ़ापे में भी अपने बेटे के लिए संतान की प्राप्ती के लिए तकरीबन 190 किलोमीटर की दूरी को दण्डवत कर देशनोक जाने की मन्नत मांग ली.
2019/12/26 11:12
कर्नाटक के बेंगलुरु से बाबा रामदेव की समाधि के दर्शन करने के लिए तीन सौ से अधिक श्रद्धालुओं का जत्था रामदेवरा आया. सभी श्रद्धालुओं ने बाबा रामदेव मन्दिर पहुंचकर बाबा रामदेव की समाधि के दर्शन कर पूजा-अर्चना की.
2019/12/26 09:12
आज सूर्य ग्रहण है और करीब 296 साल बाद यह दुर्लभ संयोग आया है कि अमावस्या, गुरुवार व सूर्य ग्रहण  एक ही दिन है. रात 8:10 से सूर्य ग्रहण का असर शुरू हुआ था जो आज लगभग 10:51 बजे तक रहेगा. वहीं जोधपुर शहर में सूर्य ग्रहण का प्रभाव 2 घंटे 41 मिनट का रहेगा.
2019/12/25 15:12
साल 2019 का आखिरी सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर को यानि कल होगा. भारतीय समयानुसार यह ग्रहण सुबह 8 बजे से शुरू होकर 10 बजकर 57 मिनट तक प्रभावी रहेगा. यह सूर्य ग्रहण को देश के दक्षिणी भाग में कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु के हिस्सों देखा जा सकेगा जबकि देश के अन्य हिस्सों में यह आंशिक सूर्य ग्रहण के रूप में ही दिखाई देगा. 
2019/07/25 11:07
विश्व को प्रेम, दया और मानवता का संदेश देने वाले प्रभु यीशु मसीह का जन्म दिन क्रिसमस आज राजस्थान की सांस्कृतिक राजधानी सूर्य नगरी जोधपुर में भी परंपरा अनुसार मनाया जा रहा है.
2019/12/04 12:12
कृष्ण धाम सांवरिया सेठ की नगरी मंडपिया मैं चौदस के रोज सांवरिया सेठ का भंडार खोला गया....
2019/11/22 10:11
  एकादशी का नियमित व्रत रखने से मन कि चंचलता समाप्त होती है. धन और आरोग्य की प्राप्ति होती है. हिन्दु कैलेंडर और पंचांग के अनुसार, आज  उत्‍पन्ना एकादशी 2019 है.
2019/06/21 04:06
हिंदू धर्म में वास्तुशास्त्र का विशेष महत्व है. कोई भी काम करने से पहले हम वास्तुकार से मदद लेते हैं. ऐसे में हम अपने पर्स या वॉलेट को भी वास्तु के अनुसार रखें तो मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है. इसके लिए आपको हम कुछ ऐसे सरल वास्तु उपाय बता रहे हैं.
2019/11/19 12:11
कालाष्टमी जिसे काल भैरव जयंती भी कहा जाता है. ये हर माह कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है
2019/12/19 12:12
कालाष्टमी जिसे काल भैरव जयंती भी कहा जाता है. ये हर माह कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है
2019/11/12 12:11
सिख धर्म के संस्थापक और सिखों के पहले धर्मगुरु गुरुनानक देव की 550 वी जयंती आज प्रकाश पर्व के रूप में देश भर में मनाई जा रही है. अमूमन गुरुद्वारे में सिखों द्वारा पूजा अर्चना करने का रिवाज है लेकिन सीमावर्ती बाड़मेर जिले में रेलवे स्टेशन के सामने स्थित गुरुनानक गुरुद्वारा करिबन 40 वर्षो से संचालित हो रहा है यहां शुरू से ही सिख एवं सिंधी मिलकर कर रहे है. 
2019/11/12 07:11
करोड़ों लोगों के आस्था के केंद्र पुष्कर सरोवर में आज कार्तिक मास की पावन पूर्णिमा के उपलक्ष्य पर महास्नान हो रहा है. कार्तिक मेला दुर्लभ पद्म योग कार्तिक पूर्णिमा 12 नवंबर 2019 को रात 8:01 पर प्रारंभ होकर 13 नवंबर 2019 बुधवार को रात 10:00 बजे तक यह योग रहेगा.
2019/11/11 17:11
सिखों के पहले धर्मगुरु गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती के मौके पर देशभर में सेलेब्रेशन शुरू हो गया है.श्री गुरु नानक देव जी ने दुनिया को 'नाम जपो, किरत करो, वंड छको' का संदेश देकर समाज में भाईचारक सांझ को मजबूत किया
2019/12/11 05:12
सिखों के पहले धर्मगुरु गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती के मौके पर देशभर में सेलेब्रेशन शुरू हो गया है.श्री गुरु नानक देव जी ने दुनिया को 'नाम जपो, किरत करो, वंड छको' का संदेश देकर समाज में भाईचारक सांझ को मजबूत किया
2019/05/11 10:05
सम्पूर्ण मानव जाति के कल्याण और देश में खुशहाली की मनोकामना लेकर सैकड़ों साधु-संतों ने गुरुवार को ब्रह्म चौदस के पवित्र अवसर पर पुष्कर सरोवर में शाही स्नान कर पूजा-अर्चना की. 
2019/11/11 09:11
राजस्थान का गौरवमयी इतिहास है. सदियों पुरानी परंपराएं आज भी यहां अपने मूल रूप में हैं. अपनी आन बान और शान के लिए पहचाने जाने वाले इस प्रदेश की नृत्य परंपराएं भी पूरी दुनियां में लोकप्रिय हैं.
2019/11/11 09:11
जगत पिता ब्रम्हा की नगरी पुष्कर में चल रहे मेले के दौरान विदेशियों के लिए भारतीय दूल्हा-दुल्हन की एक अनूठी प्रतियोगिता आयोजित की गई. इस प्रतियोगिता में सात समुन्दर पार से मेला देखने आई विदेशी युवतियों ने सोलह श्रृंगार करके भातीय दुल्हन का वेश धरा और एक सुशील दुल्हन की तरह लोगों के बीच आकर उनका अभिवादन किया.
2019/11/11 08:11
पुष्कर मेले के दौरान प्रसिद्ध नृत्यांगना अक्षिता भट्ट ने ऑडिसी डांस की शानदार प्रस्तुति देकर मौजूद हजारो दर्शको का दिल जीत लिया. गुरु पदम चरण देहुरी के सानिध्य में ऑडिसी डांस सीख रही पुष्कर की उभरती हुई नृत्यांगना अक्षिता ना सिर्फ बीते 5 सालों से यह डांस सिख रही है बल्कि भारतीय शास्त्रीय संगीत को आगे बढाने के लिए बच्चों को सिखा भी रही है.

-------Advertisement--------



-------Advertisement--------